हिप्स कम करने के लिए महिलाएं करें ये आसान एक्सरसाइज

आज कल लोग अपनी सेहत और फिटनेस को लेकर काफी जागरूक हो गये हैं। लेकिन अक्सर जब महिलाओं की बात होती है, विशेषकर भारतीय महिलाओं की, तो उन्हें उपने बॉडी शेप को लेकर कई बार काफी परेशानियां देखनी पडती हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि ज़्यादातर भारतीय महिलाओं का बॉडी शेप गोल है और उनका अधिकतर फैट पेट या पेट के नीचे जमा हो जाता है। इसलिए उन्हें अपने हिप्स या बट वाले फैट को कम करने में बहुत मुश्किल होती है और यह सबसे ज़्यादा बढ़ता भी है।

हिप्स कम करना है तो स्टैंडिंग साइड किक एक्सरसाइज करें –
सबसे पहले एकदम सीधा खड़े हो जाएँ और पैरों को खोल लें। दोनों हाथों को साइड में रखें। फिर तीन तक की गिनती शुरू करें और बाएं पैर को बाई तरफ ही उठायें।
ध्यान रखें कि अंदर की तरफ की जांघ ज़मीन के बिल्कुल समानांतर होनी चाहिए।
ऊपर ले जाने के बाद कुछ मिनट ऐसे ही अवस्था को बनाये रखें। फिर से तीन तक की गिनती शुरू करें और पैर को धीरे-धीरे ज़मीन की ओर ले आएं।
इस प्रक्रिया को 15 बार करें। फिर यही प्रक्रिया दूसरे पैर से भी इसी प्रकार करें।

ये व्यायाम किन क्षेत्रों के लिए लाभकारी है –

जांघ की अंदर की तरफ की चर्बी कम करने के लिए, हिप्स की मांसपेशियों यानि ग्लूट्स के लिए, जांघ के आगे के क्षेत्र के लिए और हिप्स के लिए लाभदायक है।

हिप्स कम करने की एक्सरसाइज है साइड जम्प –
सबसे पहले कमर पर हाथों को रखें। अपने दाएं पैर को उठायें और फिर बाएं पैर से तीन बार कूदें। पैरों को ज़मीन पर रखते समय घुटनों को थोड़ा झुका लें।
अब दाएं पैर को ज़मीन पर रख दें।
यही प्रक्रिया दाएं पैर से भी करें। यानि दाएं पैर से कूदें और बाएं पैर को ज़मीन से उठाकर रखें।
दोनों पैरों से ये प्रक्रिया 15 बार दोहराएं।

ये व्यायाम किन क्षेत्रों के लिए लाभकारी है –

जांघ की अंदर की तरफ की चर्बी कम करने के लिए, हिप्स की मांसपेशियों के लिए, कमर के लिए और कूल्हों की चर्बी को कम करने के लिए लाभदायक है।

हिप्स कम करने के लिए एक्सरसाइज है हिप्स रेज –
सबसे पहले कमर के बल लेट जाएँ और पैरों को एकदम सीधा कर लें।
धीरे-धीरे कूल्हों को उठायें और अपने दाएं पैर को ऊपर उठाते रहें। अपनी सामने वाली दीवार या अनुमान से पैर को रोक लें।
अपने बाएं पैर को घुटनों से मोड के रखें।
इस अवस्था को दो से तीन मिनट तक बनाये रखें।
फिर धीरे-धीरे पैर को ज़मीन पर ले आएं।
ये प्रक्रिया दोनों पैरों से दस-दस बार दोहराएं।

ये व्यायाम किन क्षेत्रों के लिए लाभदायक है –

कूल्हों की मांसपेशियों के लिए, हिप्स की चर्बी कम करने के लिए और जांघ के सामने के क्षेत्र के लिए लाभदायक है।

कूल्हे की चर्बी कम करने के लिए ट्रेवलिंग स्क्वाट किक व्यायाम करें –
सबसे पहले हाथों को कमर पर रख लें। फिर अपने दाएं पैर से साइड में किक करें और बाएं पैर को एकदम सीधा रखें।
फिर दाएं पैर को वापस पुरानी अवस्था में ले आएं।
अब बाएं पैर से बाई ओर किक करें।
यही प्रक्रिया दोनों पैरों से 15 बार दोहराएं।

ये व्यायाम किन हिस्सों के लिए लाभदायक है –

जांघ, हिप्स की मांसपेशियों और जांघ के आगे के तरफ के क्षेत्र के लिए लाभदायक है।

कूल्हे की चर्बी करनी है कम तो करें लेग रेज व्यायाम –
सबसे पहले दोनों हाथों और दोनों पैरों को ज़मीन पर रख लें। आपके शरीर का वजन हाथों और पैरों दोनों पर संतुलित रहना चाहिए।
अब अपने दाएं पैर को उठायें और पीछे की तरफ ले जाते हुए एक किक मारें।
ध्यान रहे आपके पैर का पंजा ज़मीन की तरफ होना चाहिए।
अब दाएं पैर को ज़मीन पर वापस लेकर आ जाएँ।
यही प्रक्रिया दूसरे पैर से भी इसी प्रकार करें।
दोनों पैरों से दस-दस बार इस अवस्था को दोहराएं।

ये व्यायाम किन क्षेत्रों के लिए लाभदायक है –

जांघ के आगे के क्षेत्र के लिए, हिप्स की मांसपेशियों के लिए, कूल्हों की चर्बी कम करने के लिए लाभदायक है।

स्क्वाट व्यायाम से हिप्स को करें कम –
सबसे पहले अपने दोनों पैरों को अलग करके खड़े हो जाएँ। फिर अपने हाथों को सामने रख लें। हथेलिया ज़मीन की तरह होनी चाहिए।
फिर जैसे आप चेयर पर बैठते हैं उसी तरह आधा बैठने की कोशिश करें। जब आप बैठेंगे तो शरीर का वजन पैरों की एड़ियों पर पड़ना चाहिए।
अपनी क्षमता के अनुसार इस अवस्था को बनाएं।
बैठने के बाद फिर धीरे-धीरे अपनी पुरानी अवस्था में आ जाएँ।
इस अवस्था को दस बार दोहराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »