जानिए महिलाओं के चेहरे पर मौजूद अत्यधिक बालों को हटाने के टिप्स

प्लकिंग : हर महिला के घर में प्लकर जरूर होता है। ऐसे में आप इस प्लकर की मदद से बड़ी आसानी से अपने आइब्रो, अपर लिप और ठुड्डी के पास के अतिरिक्त बालों को हटा सकती हैं। हालांकि, अगर आपके चेहरे पर बालों की ग्रोथ बहुत ज्यादा है, तो उसमें यह तरीका कारगर साबित नहीं होगा।

शेविंग : वैसी महिलाएं जो चेहरे पर मौजूद अतिरिक्त अनचाहे बालों को हटवाने के लिए पार्लर या सलॉन नहीं जाना चाहतीं वे इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए रेजर का इस्तेमाल कर सकती हैं। आप मार्केट से कोई सा भी रेजर खरीदकर उसका इस्तेमाल कर सकती हैं। इसे कैसे इस्तेमाल करना है, यह जानना जरूरी है। इसके लिए जिस हिस्से से बाल हटाने हों उस क्षेत्र को पानी से गीला करें और कोई शेविंग क्रीम, जेल या साबुन लगाएं। जब झाग बन जाए तो बालों के उगने की दिशा में रेजर चलाएं। एक बार हो जाने के बाद फिर से उस हिस्से को पानी से साफ करें और मॉइश्चराइजर लगा लें।

डेपिलेटरी या अनचाहे बाल हटाने वाली क्रीम : मार्केट में अनचाहे बालों को हटाने वाली डेपिलेटरी क्रीम बड़ी आसानी से मिल जाती है और यह तरीका पूरी तरह से दर्दरहित भी है। लेकिन क्रीम को इस्तेमाल करने से पहले अपने हाथ या पैर के किसी हिस्से पर क्रीम का पैच टेस्ट कर लें, ताकि यह पता चल जाए कि आपको इस क्रीम से कोई एलर्जी तो नहीं है। अगर एलर्जी नहीं होती तो आप इस क्रीम को बाल हटाने वाली जगह पर लगाएं, स्पैट्यूला से अच्छी तरह से फैलाएं, उसे 5 से 10 मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर स्पैट्यूला की मदद से क्रीम के साथ-साथ बालों को भी हटा दें।

वैक्सिंग : आप चाहें तो घर पर ही सॉफ्ट या हार्ड वैक्स की मदद से वैक्सिंग भी कर सकती हैं। इस दौरान कुछ दिक्कतें भी हो सकती हैं, क्योंकि वैक्स को पूरी तरह से पिघलाना होता है और फिर यह भी देखना पड़ता है कि कहीं वैक्स, स्किन के लिए बहुत ज्यादा गर्म न हो जाए। अगर आप इस तरीके से वाकिफ नहीं है तो इसे घर पर इस्तेमाल न करें वरना हो सकता है कि आपकी स्किन जल जाए। हार्ड वैक्स की जगह आप चाहें तो वैक्सिंग स्ट्रिप मार्केट से खरीदकर ला सकती हैं जिनपर पहले से वैक्स लगा होता है। इस वैक्स स्ट्रिप को बाल निकालने वाली जगह पर लगाएं, अच्छे से रगड़ें और बाल उगने की विपरित दिशा में खींच दें। हॉट वैक्स की तुलना में वैक्स स्ट्रिप को इस्तेमाल करना ज्यादा आसान होता है।

थ्रेडिंग : एक खास तरह के कॉटन धागे की मदद से अनचाहे बालों को एक-एक कर प्लकिंग के जरिए हटाया जाता है। आप चाहें तो पार्लर या सलॉन में जाकर थ्रेडिंग के जरिए अनचाहे बालों को हटवा सकती हैं।

एपिलेटर्स : एपिलेटर एक तरह का उपकरण है जो जड़ों से अनचाहे बालों को खींचकर निकालता है। इसे इस्तेमाल करने के दौरान काफी दर्द हो सकता है।
लेजर हेयर रिमूवल : आप चाहें तो किसी मेडिकल प्रोफेशनल की मदद से लेजर तकनीक का इस्तेमाल कर अनचाहे बालों को हटवा सकती हैं। इस ट्रीटमेंट के दौरान डॉक्टर लेजर लाइट की मदद से हेयर फॉलिकल्स यानी बालों के कूप को बर्बाद करते हैं। ऐसा करने से बालों की ग्रोथ और मात्रा दोनों में कमी आ जाती है।

इलेक्ट्रोलाइसिस : इस ट्रीटमेंट का इस्तेमाल नए उगने वाले बालों को कम करने में किया जाता है, लेकिन इसे सिर्फ किसी सर्टिफाइड मेडिकल प्रोफेशनल से ही करवाना चाहिए। इस इलाज के दौरान डॉक्टर बालों के कूप के बीच से बिजली के करेंट को दौड़ाते हैं, जिससे बालों को नुकसान पहुंचता है और वे दोबारा उग नहीं पाते।

ब्लीचिंग : ब्लीचिंग करवाने से चेहरे पर मौजूद अतिरिक्त बाल हटते नहीं हैं लेकिन उनका रंग जरूर हल्का हो जाता है, जिससे वह चेहरे पर कम नजर आते हैं। हाइड्रोक्वीनोन, चेहरे के लिए इस्तेमाल होने वाली ब्लीचिंग किट का मुख्य एजेंट है। लेकिन किसी भी तरह की ब्लीच को सीधे चेहरे पर इस्तेमाल करने से पहले उसका एलर्जी टेस्ट जरूर कर लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »