शरीर में चोट लगने से सूजन की समस्या में करे ये घरेलू उपाय

शरीर में चोट लगने से सूजन की समस्या होती है। इसके अलावा शरीर का फूलना भी सूजन कहलाता है। ये आमतौर पर ऊतको में पानी की अधिक मात्रा बढ़ जाने के कारण होती है। ये शरीर के किसी भी हिस्से को प्रभावित कर सकती है। सूजन, दवाओं के दुष्प्रभाव की वजह से और गर्भावस्था में हो सकती है। साथ ही एक ही जगह पर अधिक समय तक बैठे रहने से भी ये समस्या हो सकती है।

सूजन कम करें पाइनेपल जूस से –
आवश्यक सामग्री –

1/4 पाइनेपल
1 कप पानी
पाइनेपल को इस्तेमाल करने का तरीक़ा –

पाइनेपल (अनानास) को छीलकर छोटे टुकड़ों में काट लें।
अब एक मिक्सर में पानी और कटे हुए पाइनेपल को डाल कर जूस बना लें और जल्द पी लें।
इसे कितनी बार इस्तेमाल करें –

रोज़ाना दिन में एक बार इसका सेवन करें।

ये कैसे काम करता है –

पाइनेपल में बहुत अधिक मात्रा में ब्रोमलेन यौगिक पाया जाता है, जिसमें सूजन को कम करने के गुण होते हैं। साथ ही ये शरीर फूलने की समस्या में भी बेहद उपयोगी है। इसके अलावा पाइनेपल एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक के रूप में भी जाना जाता है।

सूजन कम करने का तरीका है मसाज थेरेपी –
आवश्यक सामग्री –

5 से 6 बूंद अंगूर या जुनिपर ऑयल
नारियल तेल 30 ml
मसाज़ थरेपी करने का तरीक़ा –

सबसे पहले दोनों तेलों को मिला लें।
अब आहिस्ता-आहिस्ता 5 से 10 मिनट तक अपने पैरों पर इस तेल से मालिश करें।
इसे कितनी बार इस्तेमाल करें –

बेहतर परिणाम के लिए रोज़ाना कम से कम दो बार मालिश करें।

ये कैसे काम करता है –

मालिश करने से रक्त प्रवाह में सुधार होता है, जिससे सूजन को कम करने में में मदद मिलती है।

नोट – मसाज़ करने के 15 मिनट पहले अपने पैरों को ऊपर रखें। ऐसा करने से आपके शरीर की सूजन वाले क्षेत्र में जमा पानी वापस प्रवाह में आ जाएगा, जिससे सूजन से प्रभावित क्षेत्र में पानी की मात्रा कम हो जाएगी।

सूजन कम करने का घरेलू उपाय है हल्दी –
आवश्यक सामग्री –

1 चम्मच हल्दी पाउडर
1 गिलास दूध या पानी
हल्दी को इस्तेमाल करने के दो तरीक़े –

पहला तरीक़ा –
गर्म पानी या गर्म दूध के गिलास में हल्दी मिलाएं और पी लें।

दूसरा तरीक़ा –
एक बर्तन में 1 चम्मच हल्दी और कुछ बूंदें पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
अब इस पेस्ट को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
इसे कितनी बार इस्तेमाल करें –

इस उपाय को रोज़ाना सुबह और रात में इस्तेमाल करें, जब सूजन कम न हो जाए।

ये कैसे काम करता है –

हल्दी में कर्क्यूमिन नामक एक यौगिक होता है। इसमें सूजन को कम करने के और डिटॉंक्सिंग के गुण होते हैं। ये दोनों गुण सूजन को कम करने में मदद करते हैं।

सूजन से राहत दिलाने में सेब का सिरका है लाभकारी –
आवश्यक सामग्री –

2 कप सेब का सिरका
2 कप गर्म पानी
एक साफ तौलिया
सेब के सिरके को इस्तेमाल करने का तरीक़ा –

एक बड़ी कटोरी में सेब के सिरके और गर्म पानी को मिलाएं।
अब इस मिश्रण में तौलिये को भिगो लें और सूजन से प्रभावित क्षेत्र पर लपेटें।
इसके बाद इसे 5 मिनट के लिए छोड़ दें।
अब दोबारा तौलिये को मिश्रण में भिगोकर पुनः सूजन से प्रभावित क्षेत्र पर लपेटें।
इसे कितनी बार इस्तेमाल करें –

जब तक सूजन कम न हो जाए, तब तक रोज़ाना दो बार करें।

ये कैसे काम करता है –

सेब के सिरके के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इसमें पोटेशियम की बहुत अधिक मात्रा पाई जाती है और सूजन को कम करने वाले गुण भी होते हैं। पोटेशियम पानी की प्रतिधारण को कम करता है और सूजन को कम करने वाले गुण सूजी हुई त्वचा के इलाज में मदद करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »