जानिए कैंसर की बीमारी में क्या खाना होता है सेहत के लिए फायदेमंद

कैंसर एक रोग है, जो असामान्य कोशिकाओं के विकास के द्वारा होता है जो कि विभिन्न तरीकों से शरीर को नुकसान पहुचाती हैं। कैंसर के 100 से अधिक प्रकार हैं जैसे स्तन, त्वचा, डिम्बग्रंथि, फेफड़े, अग्नाशय, पेट, प्रोस्टेट और लिंफोमा आदि।

ऐसे कुछ ज्ञात कारक हैं जिनसे कैंसर का खतरा बढ़ जाता है जैसे अत्यधिक धूम्रपान, अत्यधिक शराब का सेवन, मोटापा, हानिकारक रसायनों का जोखिम और दूसरों के द्वारा धूम्रपान का खुद पर प्रभाव और आनुवंशिकी आदि।

आप वंशानुगत और कुछ पर्यावरणीय कारकों को नियंत्रित नहीं कर सकते हैं, किंतु आप स्वस्थ आहार और जीवन शैली विकल्पों को अपनाकर भी कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं। एक सुनियोजित आहार कई तरह के कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है। वास्तव में, ऐसे कई एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोकेमिकल्स से संपन्न खाद्य पदार्थ हैं जो कि कैंसर विरोधी लाभ देते हैं।

कैंसर से बचने का अचूक इलाज है ब्रोकली –
ब्रोकली खाने से कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है। इस सब्ज़ी में यौगिक होते हैं जिनको ग्लूकोसाइनोलेट्स कहा जाता है, जिनसे शरीर में सुरक्षात्मक एंज़ाइमों का उत्पादन होता है।

इन एंज़ाइमों में से एक है सल्फोराफेन (sulforaphane), जो कैंसर के लिए ज़िम्मेदार केमिकल्स को बाहर करके कैंसर के खतरे को कम करने में मदद करता है। सल्फोराफेन कैंसर स्टेम सेल्स को भी निशाना बनाते हैं जो कि ट्यूमर के विकास में सहायक हैं।

एक 2011 के अध्ययन में ओरेगन स्टेट यूनिवर्सिटी में लिनस पॉलिंग संस्थान में वैज्ञानिकों ने निष्कर्ष निकाला है कि ब्रोकोली में पाया सल्फोराफेन कैंसर को रोकने में मदद करता है।

ब्रोकोली मुंह, स्तन, जिगर, फेफड़े, मूत्राशय, एसोफेगल और पेट के कैंसर के खिलाफ भी रक्षा करने में प्रभावी है।

2 कप ब्रोकोली, उबली हुई या स्टीम्ड, प्रति सप्ताह 2 या 3 बार खाएं।

कैंसर से बचाव के लिए पिएं हरी चाय –
हरी चाय एक लोकप्रिय पेय है जो कि विभिन्न तरह के कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकती है। हरी चाय में कटेचिंस (catechins), एपीगल्लॉकातेचीन-3-गल्लते और एपीकातेचीन (epicatechin) के रूप में यौगिक पाए जाते हैं, जो कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने में मदद करते हैं। हरी चाय भी मुक्त कणों (free-radicals) को रोकने में मदद करती है जो कोशिकाओं को नुकसान पहुँचाते हैं।

2008 में चाइनीज़ मेडिसिन पत्रिका में हरी चाय और कैंसर की रोकथाम पर प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, हरी चाय जठरांत्र, स्तन, फेफड़े और प्रोस्टेट कैंसर पर अपने सुरक्षात्मक प्रभावो को दर्शाती है। हालाँकि, इसके लिए और अधिक संभावित अध्ययन की जरूरत है।

इसके कैंसर विरोधी लाभ लेने के लिए हरी चाय दैनिक रूप से 3 से 4 कप पिएं। आप अपने चिकित्सक से परामर्श के बाद हरी चाय का अर्क भी ले सकते हैं।

कैंसर से लड़ने वाले आहार हैं टमाटर –
यह रसदार फल लाइकोपीन का एक अच्छा स्रोत है और एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है जो कि कैंसर से लड़ने में मदद करता है। लाइकोपीन प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ा देता है और नुकसान से कोशिकाओं की रक्षा करता है। यह असामान्य कोशिकाओं की वृद्धि को भी रोकता है। इसके अलावा, यह विटामिन ए, सी और ई, जो शरीर में मुक्त कणों से नुकसान को रोकने का एक अच्छा स्रोत है।

2013 में पोषण विज्ञान और विटामिनोलॉजी के जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि जो मनुष्य अधिक टमाटर और टमाटर आधारित उत्पादों, दोनों कच्चे और पके हुए, का सेवन करता है, उनमें प्रोस्टेट कैंसर के विकसित होने की संभावना कम होती है। टमाटर एंडोमेट्रियल, स्तन, फेफड़े और पेट के कैंसर के खतरे को भी कम करने में प्रभावी रहते हैं।

आप दैनिक आधार पर 1 कप कटे हुए टमाटर खाएँ। अधिकतम कैंसर विरोधी लाभों का आनंद लेने के लिए, आप टमाटर सॉस, पेस्ट और रस को भी अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

कैंसर को रोकने के लिए उपयोगी है ब्लूबेरी –
ब्लूबेरी कैंसर से लड़ने वाले फाइटोन्‍यूट्रीएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट्स में संपन्न हैं। ये ब्लूबेरी मुक्त कणों को बेअसर करते हैं जो कि कोशिकाओं को नुकसान और कैंसर सहित अन्य बीमारियों को जन्म दे सकते हैं। इसमें विटामिन C और K, मैंगनीज और डाइटरी फाइबर भी होते हैं, जो कैंसर के खतरे को कम करने में भी मदद करते हैं।

कैंसर का आयुर्वेदिक इलाज है अदरक –
अदरक भी विभिन्न तरह के कैंसर के प्रकार के जोखिम को कम करने में मदद करता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकते हैं।

BMC कौम्पलीमेंटरी एंड आल्टरनेटिव मैडिसिन जर्नल में प्रकाशित एक 2007 का अध्ययन अदरक की गर्भाशय के कैंसर का मुकाबला करने की क्षमता को दर्शाता है। यह बढ़ते हुए कैंसर को रोकता है और इसके फैलने की क्षमता को अवरुद्ध करता है। इसके अलावा, 2012 में प्रकाशित न्यूट्रीशन के ब्रिटिश जर्नल में एक अध्ययन में पाया गया कि अदरक प्रोस्टेट कैंसर को रोकने में कारगर है। कैंसर की रोकथाम में सहायक है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »