सिगरेट पीने के बाद शरीर में शुरू हो जाते हैं ये बदलाव

स्मोकिंग छोड़ने के 8 घंटे बाद शरीर के खून में निकोटीन और कार्बन मोनोऑक्साइड का स्तर कम से कम आधा हो जाता है और ऑक्सीजन का स्तर सामान्य होने लगता है।

स्मोकिंग या तम्बाकू उत्पाद छोड़ने के 24 घंटे यानी एक दिन बाद आपको हार्ट अटैक होने का खतरा कम होने लगता है। क्योंकि, शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा सामान्य होने से रक्त वाहिकाएं स्वस्थ होने लगती हैं।

धूम्रपान छोड़ने के 48 घंटे बाद पहले डैमेज नर्व एंडिंग पुनःविकसित होने लगती हैं और आपकी सूंघने, सुनने और टेस्ट करने की इंद्रियों की कार्यक्षमता सामान्य होने लगती हैं। इसके साथ ही स्मोकिंग छोड़ने के 2 दिन बाद कार्बन मोनोऑक्साइड शरीर से पूरी तरह बाहर हो जाती है और फेफड़े म्यूकस और अन्य स्मोकिंग के कणों को बाहर करके साफ होने लगते हैं।

स्मोकिंग छोड़ने के 2 हफ्ते से लेकर 3 महीने बाद आपके फेफड़े और मजबूत होने लगते हैं और शरीर में ब्लड फ्लो सुधरने लगता है। आपको चलने, एक्सरसाइज करने आदि में आसानी होने लगती है और सांस संबंधित तकलीफ से राहत मिलने लगती है।

इस समय आप गहरी और लंबी सांस लेने में सक्षम हो जाते हैं। मतलब आपके फेफड़े पूरी तरह से कार्य करने लगते हैं। इसके अलावा, आपके खांसने, छींकने की प्रक्रिया सही होने लगती है, जिससे शरीर में कोई भी कण अवरोध नहीं बन पाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »