वो घटना जिसकी वजह से भारतीय क्रिकेट को अपमानित होना पड़ा था, क्लिक कर के जाने

अपनी मौजूदगी का अहसास कराने के लिए हमारे देश के राजनीतिक दल अलग अलग उपाय अपनाते हैं । कभी वो धरना प्रदर्शन करते हैं तो कभी किसी के मुँह पर कालिक पोत देते हैं , कही कोई चप्पल खा कर लोगों की सहानुभूति पाने की खोशिश करता है तो कोई चप्पल मर कर प्रसिद्ध हो जाता है। जितना बड़ा और समृद्ध हमारा देश है उतने ही बड़े यहाँ के किस्से। चलिये आज इन्ही किस्सों में से एक किस्से का जिक्र सुनते हैं। स्वागत है दोस्तों आप सभी का आपके अपने चैनल डेली तूफ़ान में। आइये जानते हैं इस खबर के बारे में।

बात सन 1999 के समय की है जब पाकिस्तानी क्रिकेट टीम भारत के दौरे पर आई थी। केन्द्र में बीजेपी की सरकार थी और प्रधानमंत्री थे.

स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी। उस समय भारत और पाकिस्तान के बीच के रिश्ते काफी लंबे समय से ख़राब चल रहे थे और स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई थी। लेकिन 19 मार्च 1998 को अटल जी के प्रधानमत्री बनने के बाद से रिश्ते कुछ ठीक हुए थे और बातचीत का दौर शुरू हो गया। इसका फ़ायदा ये हुआ कि दोनों देशो के बीच जो क्रिकेट खेलने पर विराम लगा हुआ था वो ख़त्म हो गया और पाकिस्तानी टीम जनवरी 1999 में भारत के दौरे पर आई।

पाकिस्तानी टीम के भारत दौरे की गोषणा होते ही शिवसेना ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया। शिवसेना प्रमुख बालासाहेब पाकिस्तानी टीम के भारतीय दौरे से बहुत न खुश थे। महाराष्ट्र में उस समय बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन की सरकार थी। पहला टेस्ट मैच मुंबई में खेला जाना था लेकिन शिवसेना प्रमुख बालासाहेब को खुश करने के लिए ये मैच मुंबई की जगह दिल्ली शिफ्ट कर दिया गया। दिल्ली में ये मैच 6 जनवरी 1999 से फिरोज शाह कोटला मैदान में खेला जाना था लेकिन 5 जनवरी को कुछ ऐसा हुआ जिसने भारतीय क्रिकेट को शर्मिंदा कर दिया।

5 जनवरी की रात 100 से 150 संख्या में शिवसैनिक फिरोज शाह कोटला मैदान पहुँचे और उन्होंने पिच खोद डाली। इसका एक वीडियो भी बनाया गया था जिसमें शिवसैनिक पिच खोद रहे थे। BCCI के साथ साथ सभी देश वासियों को इस घटना से बहुत झटका लगा और शिवसेना को खूब प्रसिद्धि मिली। बदनाम यो हुए फिर भी नाम तो हुआ। लेकिन BCCI ने भी ठान रखा था कि सीरीज कैंसल नहीं करेगी।

दिल्ली में खेले जाने वाले टेस्ट मैच को मद्रास ट्रांसफर किया और पिच ठीक कराकर दूसरा टेस्ट मैच फिरोज शाह कोटला में ही कराने की गोषणा की। शिवसेना की तरफ से फिर से एक बयान जारी हुआ जिसमे उसने मैदान पर ज़हरीले साँप छोड़ने की धमकी दी। लेकिन इस बार BCCI ने कड़ा रुख अपनाते हुए केंद से सुरक्षा की गुहार लगाई। सरकार ने सुरक्षा कर्मियों के साथ साथ 20 सपेरे भी मैदान पर लगाए ताकि अगर कोई शिवसैनिक मैदान में साँप छोड़ता है तो उसको पकड़ा जा सके। दिल्ली में मैच हुए भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाई और अनिल कुंबले ने एक पारी में 10 विकेट लिए। उम्मीद है ये किस्सा आपको पसंद आया होगा। ऐसे ही किस्सों के लिए हमसे जुड़े रहे।

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »