हाई ब्लड प्रेशर होने पर करे ये घरेलू उपाय

हाई ब्लड प्रेशर को हाइपरटेंशन भी कहा जाता है। ये एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है, जिसकी वजह से दिल का दौरा, स्ट्रोक और किडनी भी खराब हो सकती है। ब्लड प्रेशर का स्तर अगर 140/90 एम्एम् (mm) या उससे ज़्यादा होता है तो उसे हाई समझा जाता है। हाइपरटेंशन आमतौर पर तब होता है, जब शरीर में रक्त का स्तर तेज़ हो जाता है।

ब्लड प्रेशर के कई आम कारण या कारक हैं, जैसे मोटापा, अनुवांशिक, अत्यधिक शराब का सेवन, ज्यादा नमक खाना, व्यायाम की कमी, तनाव, दर्द निवारक गोली, किडनी की बीमारी, अधिवृक्क रोग आदि। अक्सर कई दवाइयां हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को दी जाती हैं, लेकिन आप ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए कुछ आसान प्राकृतिक घरेलू उपाय भी आजमा सकते हैं।

रक्तचाप कम करने का उपाय है प्याज –
सामग्री –

आधा माध्यम आकार का प्याज।
विधि –

कोशिश करें कि कच्चा मध्यम आकार का प्याज रोज़ाना खाएं।
इसके आलावा आप आधा चम्मच प्याज के जूस को आधा चम्मच शहद के साथ मिलाकर खा सकते हैं।
इसका इस्तेमाल कब करें –

आप प्याज के जूस और शहद के मिश्रण को एक या दो हफ्ते के लिए पूरे दिन में दो बार मिलाकर खा सकते हैं।

फायदे –

प्याज में एंटीऑक्सीडेंट फ्लवोनोल होते हैं, जिसे क्वेरसेटिन (Quercetin) कहा जाता है। ये ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर कम करने का तरीका है नारियल पानी –
सामग्री –

एक नारियल पानी।
विधि –

आप एक नारियल पानी को रोज़ाना ज़रूर पीयें।
इसका इस्तेमाल कब तक करें –

नारियल पानी को आप पूरे दिन में एक से तीन बार ज़रूर पीयें। अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या ज्यादा रहती है तो पूरे दिन में तीन बार नारियल पानी पी सकते हैं।

फायदे –

नारियल पानी में पोटेशियम और मैग्नीशियम इलेक्ट्रोलाइट्स होता है, जो कि ह्रदय की मांसपेशियों के लिए अच्छा होता है। नारियल का पानी हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है।

ब्लड प्रेशर कम करने के घरेलू नुस्खे में करें अजमोद का उपयोग –
सामग्री –

एक चम्मच अजमोद के बीज।
विधि –

आप अजमोद के बीज को या तो चाय में मिलाकर खा सकते हैं या फिर खाने में भी मिलाकर खा सकते हैं।
इसके आलावा आप अजमोद के जूस को भी पी सकते हैं।
इसका इस्तेमाल कब तक करें –

इस उपाय को रोज़ाना पूरे दिन में तीन बार दोहराएं।

फायदे –

अजमोद के बीज का इस्तेमाल बाहर के देशों में ब्लड प्रेशर को संतुलित रखने के लिए किया जाता है। अजमोद से शरीर का अधिक पानी भी निकल जाता है। इससे ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है।

ब्लड प्रेशर कम करने के उपाय हैं लहसुन –
सामग्री –

एक या दो लहसुन की फांके।
विधि –

रोज़ाना एक या दो लहसुन की फांके खाएं। बस आप उन्हें अपने हाथों से पीस लें। लहसुन की फांकों को पीसने से उनमें हाइड्रोजन सल्फाइड बनेगा। ये एक ऐसा कंपाउंड होता है जो रक्त प्रवाह को सही करता है, गैस को दूर करता है और ह्रदय में बन रहे प्रेशर को दूर करता है।
अगर आपको कच्चा लहसुन खाने से जलन पैदा होती है तो आप इसके साथ एक कप दूध पी सकते हैं।
इसके अलावा आप पांच या छः बूँद लहसुन के रस को पानी में डाल कर इसे पी सकते हैं।
अगर आपको लहसुन की महक अच्छी नहीं लगती तो आप लहसुन के सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं।

इसका इस्तेमाल कब तक करें –

आप लहसुन की फांकों को रोज़ाना खा सकते हैं और लहसुन के जूस का सेवन पूरे दिन में दो बारे करें।

फायदे –

लहसुन हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इस जड़ी-बूटी में रक्त को पतला करने के भी गुण मौजूद होते हैं, जिससे ह्रदय से संबंधित सभी समस्याओं को भी सुधारने में मदद मिलती है। लहसुन मूत्र के ज़रिये शरीर से अधिक सोडियम और पानी को निकालता है। इस प्रभाव से ब्लड प्रेशर कम हो जाता है। इसके साथ ही लहसुन कोलेस्ट्रॉल के लिए भी बेहद अच्छा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »