मोदी सरकार ने किया बड़ा ऐलान इन लोगों के खाते में डाले जाएंगे 10-10-हज़ार-रु

आपने किसी भी सरकारी राजमार्ग के किनारों पर ठेले पर बेचते हुए कोई न कोई व्यक्ति अवश्य देखा होगा और सरकार ने उन्हीं ठेले वालों के लिए 10-10 हजार की धनराशि देने की बात कर दी है। लॉकडाउन के समय में पूरे भारत में बंदी जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है जिससे भारत की अर्थव्यवस्था की गाड़ी चलती हुई सड़क से उतरकर सड़क के किनारे बने हुए गड्ढे में जा गिरी है।

यह गड्ढा वही है, जिसको सरकार कई सालों से अनदेखा करती आ रही थी। उतरी हुई गाड़ी को वापस सड़क पर लाने के लिए वित्त मंत्रालय द्वारा विभिन्न प्रयास किए जा रहे हैं अभी कुछ दिन पहले ही वित्त मंत्रालय द्वारा टेक्सटाइल मंत्रालय के आग्रह पर एक लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा होने की संभावना व्यक्त की जा रही थी।

जिससे से छोटे-छोटे कंपनियों में आई आपदा को कम किया जा सकेगा और छोटी छोटी कंपनियों के कर्मचारी का वेतन भार कम किया जाएगा। अब प्रधानमंत्री की स्ट्रीट वेंडिंग आत्मनिर्भर निधि के अंतर्गत ठेले पर लगाने वाले व्यक्तियों को लाभान्वित करने के बात चल रही है जिसमें प्रधानमंत्री ने ठेले पर काम करने वाले लोगों को 10-10 हजार की राशि, इस निधि के अंतर्गत वितरण करने जा रही है। इस वितरण में भाग लेने वाले के आवेदकों की संख्या लगभग 1.54 लाख में 48,000 आवेदकों को चयनित किया गया है।

अब चयन की प्रक्रिया किस आधार पर की गई है इसकी तो कोई जानकारी बाहर नहीं आई है, परंतु 48 हज़ार आवेदकों को 10-10 हजार की धनराशि वितरित की जाएगी। अब देखना यह है कि सरकार द्वारा दी गई राशि कहीं रास्ते में ना आटक जाए क्योंकि भारत में अब तक का इतिहास रहा है पिछडे वर्ग को लाभान्वित करने वाली वस्तुएं हमेशा खराब रास्तों पर अटक जाती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »