ये है पद्मनाभस्वामी मंदिर के छठवें दरवाजे के खजाने का रहस्य

केरल के पद्मनाभ स्वामी मंदिर के बारे में सभी ने सुना होगायह मंदिर एक ऐसा रहस्य है जो आज के विज्ञान को चुनौती दे रहा है लगभग 400 से 500 साल पुराना मंदिर अपने 6 दरवाजोंके कारण बहुत प्रसिद्ध हुआ है पांच दरवाजों के अंदर लगभग दो लाख करोड़ का सोना मिला है जो दुनिया में किसी भी मंदिर में मिले खजाने से सबसे ज्यादा है पर इसका छठवां दरवाजाअभी तक नहीं खोला जा सका ऐसा मानना है दरवाजे के पीछे इतना खजाना है कि भारत को दुनिया की महा शक्ति बना सकता है. पर ऐसा क्या रहस्य है जो है दरवाजा नहीं खोला जा सका इन के कारणों को जानने का प्रयास करते है.

मंदिर का इतिहास:
मंदिर का इतिहास 400 साल पहले केरल के त्रावण कोर के राजाओं द्वारा बनवाया गया था इसी राज परिवार के राजा महेंद्र वर्मन ने अपने आप को भगवान विष्णु का सेवक बताकर सारा खजाना इस मंदिर में रखवा दिया था उसके बाद से इस मंदिर की देखभाल यही राज परिवार करता रहा है परंतु जब इस राज परिवार केे अंतिम राजा की मृत्यु हो गई तब मंदिर के खजाने को खोलने और उसकी जानकारी सार्वजनिक करने के लिए भक्तों द्वारा न्यायालय में याचिका लगाई गई न्यायालय द्वारा आदेश जारी करके उसके 5 दरवाजे खोल दिए गए परंतु इसका रहस्य यहीं से शुरू होता है क्योंकि इन दरवाजों को जितने लोगों ने खोला था उन सब की मृत्यु हो गई औरयाचिका लगाने वाले सुंदर राजन की मृत्यु हो गई इसके बाद मंदिर की कहानियां बाहर आने लगी.

भक्तों की मान्यता:
भक्तों का मानना है जब इस दरवाजे को खोलने की कोशिश हुई है तब कुछ ना कुछ परेशानियां आई है इसलिए दरवाजे को बंद रखना चाहिए कुछ लोगों का मानना है मंदिर समुद्र किनारे बना है इसलिए उसके दरवाजे से एक गुप्त रास्ता समुद्र तक जाता है अगर यह दरवाजा खुला समुद्र का पानी मंदिर के अंदर आ जाएगा और सब कुछ पानी में डूब जाएगा एक और प्रचलित मान्यता है इसके अंदर सांप रहते हैं जो इस खजाने की रक्षा करते हैं इस दरवाजे को खोलने के लिए विशेष पूजा पाठ की आवश्यकता होगी तभी जाकर यह खुलेगा यहां एक बात और स्पष्ट कर दी जाए दरवाजे पर कोई भी ताला मौजूद नहीं है फिर भी इसको खोलनेेेेेेे का प्रयास असफल रहा है.

राज परिवार का मत:
राज परिवार के अंतिम राजा के भाई ने इस मंदिर पर अपना कानूनी हक ले लिया है उनका मत है इस दरवाजे के अंदरशाही परिवार का कुछ राज अंदर है जिसको यह परिवार बाहर नहीं लाना चाहते और इसको खोलने के लिए हमेशा मनाकरता रहा है.

इस मंदिर का रहस्य तभी बाहर आएगा जब दरवाजा खुलेगा परंतु एक बात जो है अब तक जो मंदिर के खजाने की गिनती हुई पिछली गिनती और अब की गिनती में कुछ ना कुछ सोना चोरी होने का प्रमाण मिले हैं इसलिए एक बात तो तय है कुछ तो रहस्य है पदमनाभ स्वामी के छठवें खजाने के द्वार का.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »