अमीर बनने के लिए एक महिला ने किया यह बड़ा काम जिसे जान कर आपको होगी हैरानी

अमीर बनने के लिए एक महिला ने दिल्ली के नामी स्कूलों के दो हजार से अधिक विद्यार्थियों को नशे का अधीन बना दिया. इस बात का खुलासा मुखर्जी नगर पुलिस द्वारा अरैस्ट की गई इस महिला से पूछताछ के दौरान हुआ है.

आरोपी महिला ई-सिगरेट, जूल एवं नार्ड जैसे आधुनिक नशा एवं उपकरण विद्यार्थियों को बेचती थी. वैसे महिला का मैनेजर फरार है जिसकी गिरफ्तारी के बाद सारे रैकेट के बारे में व जानकारी मिल सकेगी. दरअसल, इस रैकेट का खुलासा बीते शनिवार को हुआ जब एक किशोर के व्हाट्सएप ग्रुप की चैट उसकी मां ने पढ़ ली. वॉट्सऐप ग्रुप में किसी अजीब वस्तु का जिक्र था. किशोर मॉडल टाउन स्थित एक प्रतिष्ठित स्कूल में 11वीं का विद्यार्थी है. चूंकि किशोर ने हाल के दिनों में चार से पांच लाख रुपये बैंक खातों से निकाले थे, इसलिए परिजनों का संदेह गहरा गया.

पूछने पर जब किशोर ने सारी बात बताई तो परिजनों ने पुलिस को जानकारी दी. इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की. चूंकि मुद्दा बेहद हाई प्रोफाइल था, इसलिए एसएचओ करण सिंह राणा व एसआई दीपक कुमार सहित 15 पुलिसवालों की टीम बनाई. टीम ने राजौरी गार्डन में रहने वाली पूजा साहनी को अरैस्ट किया.

इन चार उपायों से फंसाया जाता था शिकार

  1. स्कूलों एवं कोचिंग सेंटर के आसपास रैकेट के एजेंट नए विद्यार्थियों को नशे का आदी बनाते थे
  2. मल्टी लेवल मार्केटिंग की तर्ज पर पुराने विद्यार्थियों के माध्यम से नए विद्यार्थियों को निशाना बनाते थे
  3. फेसबुक, इंस्टाग्राम व अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिए विद्यार्थियों को लुभाते थे
  4. पब एवं पार्टियों में एजेंट खुद नशे का सेवन कर विद्यार्थियों को ग्राहक बनाते थे.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »