41 दिन बाद खुली शराब की दुकान तो शराबियों ने दी ऐसी प्रतिक्रिया,आप भी जानिए

जनपद में मंगलवार से शराब की दुकानें खुल गई हैं, जबकि यूपी के कई जिलों में सोमवार से ही शराब की बिक्री शुरू हो गई थी। जनपद में देशी की 210, भांग 14, विदेशी 97 और बियर की 99 दुकानों पर बिक्री शुरू हो गई है। प्रसाशन के सख्त आदेश हैं कि हर दुकान पर 5 वॉलेंटियर तैनात होंगे। इसके अलावा पुलिस भी रहेगी। सोशल डिस्टनिंग का पालन कराना अनिवार्य है। वहीं शराब इतने समय बाद मिलने पर लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रिया भी मिल रही है।

यह भी पढ़ें :

आपको बताते चलें कि सरकार द्वारा सोमवार को ही शराब ठेके खोले जाने के निर्देश दिए गए थे। तैयारियों को देखते हुए गाजियाबाद के जिलाधिकारी द्वारा इन्हें पूरी तरह बंद रखा गया। लेकिन सोमवार देर रात सभी अधिकारियों के साथ हुई बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया कि मंगलवार सुबह से शराब के ठेके खोले जाएंगे। लेकिन शराब की बिक्री के दौरान सोशल डिस्टेंस आवश्य बनाकर रखना होगा।

खबर मिलते ही मंगलवार सुबह से ही लोग शराब की दुकानों पर लाइन लगाकर पहुंच गए। ठेके खुलने से पहले ही लंबी-लंबी लाइनें जनपद में दिखने लगी। वहीं इस दौरान पत्रिका टीम ने कई ठेकों का निरिक्षण किया और यहां लाइन में खड़े शराबियों को बातचीत की। जिन्होंने कुछ ऐसे जवाब दिए, जिन्हें जानकर आप भी लोटपोट हो जाएंगे।

1. एक व्यक्ति ने बताया कि शराब की दुकान खुलने से पहले ही वह लाइन में लग गए, जिससे कि उनका जल्दी से नंबर आ जाए। उन्होंने बताया कि अगर यूपी में भी दिल्ली की तरह शराब के दाम बढ़ा दिए जाते हैं तो भी हम लोग खरीदेंगे। रोज तो हम नहीं पीते लेकिन रेट बढ़ने पर भी खरीदेंगे।

2. एक अन्य व्यक्ति ने बताया कि करीब डेढ़ महीने बाद शराब की दुकानें खुली हैं। इसमें जो अपर क्लास आदमी हैं वह शराब खऱीद रहा है, लेकिन जिसके पास पैसे नहीं है वह नहीं खरीद रहे। इससे गरीब आदमी पर फर्क तो आएगा ही।

3. एक व्यक्ति ने कहा कि गेहूं की फसल अभी कटी है। अब शराब मिल जाएगी तो अच्छा हो जाएगा। 40 दिनों में हमने अपनी फसल काटी, जिससे समय सही बीत गया।

4. लाइन में लगे एक और व्यक्ति ने बताया कि बहुत दिनों बाद शराब मिल रही है। हमें बहुत खुशी हो रही है। अभी तक हमने घर में ही रहकर समय बिताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *