पाकिस्तान में सरकारी मदद से वंचित गरीब समुदाय के लाखों लोग सड़कों पर उतरे

प्रदर्शनकारियों ने सरकार के विरूद्ध जमकर नारे लगाए व पंजाब के गवर्नर हाउस में घुसने की प्रयास की। इन लोगों का बोलना था कि शहर में जगह-जगह वाहनों पर लगे लाउडस्पीकर से प्रचार किया गया कि गवर्नर हाउस की तरफ से गरीबों के बीच राशन बांटा जाएगा। इसकी आरंभ प्रातः काल आठ बजे होनी थी। वे लोग प्रातः काल छह बजे से ही आकर लाइन में लग गए।

इन लोगों ने बोला कि लाइन में बहुत ज्यादा देर तक लगे रहने के बाद उनसे यह बोला गया कि यहां से जाएं, राशन पुलिस स्टेशन के बाहर मिलेगा। खाली पेट दिन निकल गया व फिर बताया गया कि राशन यहां नहीं मिलेगा। इस पर नाराज लोगों ने गवर्नर हाउस के सामने नारेबाजी प्रारम्भ कर दी। बाद में पुलिस ने उन्हें वहां से हटाया।

पाकिस्तान सरकार ने देश के सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि मौजूदा अप्रैल महीने के आखिरी हफ्ते तक पाकिस्तान में कोरोना वायरस पीड़ितों की संख्या पचास हजार तक पहुंच सकती है।

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा, नियोजन एवं समन्वय मंत्रालय (एनएचएसआसी) द्वारा सुप्रीम कोर्ट में शनिवार (4 अप्रैल) को दाखिल की गई एक रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इन पचास हजार मरीजों में से 2392 मरीजों की हालत बेहद नाजुक हो सकती है, 7024 मरीजों की स्थिति गंभीर हो सकती है और 41482 मरीज ऐसे हो सकते हैं जिनमें कोरोना वायरस के हल्के लक्षण होंगे और जिन्हें केवल उनके घरों में आइसोलेशन में रख कर ठीक कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »