क्या आपने कभी सोचा हिन्दु धर्म में सारे पवित्र काम दिन में होते हैं, लेकिन शादी रात में क्यों

दोस्तों, जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हिंदू धर्म के सारे रिती रिवाज दिन में किए जाते हैं और शादी रात में की जाती है ऐसा क्यों किया जाता है चली आपको बताते हैं इसके पीछे क्या है कारण।

आपको बता दें कि पहले भारत में सभी गुस्सा और संस्कार दिन में गिर जाते थे और शास्त्रों के अनुसार सीता और द्रौपदी का स्वयंवर भी दिन में हुआ था प्राचीन काल से लेकर मुगलों के आने तक भारत में सभी युवा दिन हुआ करते थे.

लेकिन मुस्लिम आक्रमणकारियों द्वारा भारत पर अतिक्रमण करने के बाद भारतीयों पर बहुत अत्याचार भी किये गये. मुसलमानों के आक्रमण के कारण भारत पर दिन में दुल्हन के ऊपर हमला करके उनके गहने सारे लूट लिया करते थे।

जिसके चलते हिंदुओं ने अपना शादी करने का रीति रिवाज चेंज कर दिया और वह रात में शादी करने लगी आपको बता दें कि सबसे पहले रात्रि में विवाह सुन्दरी और मुंदरी नाम की दो ब्राह्मण बहनों का हुआ था.

जिनकी विवाह दुल्ला भट्टी ने अपने संरक्षण में ब्राह्मण युवकों के साथ कराया था। कहा जाता है की उस समय दुल्ला भट्टी ने अत्याचार के खिलाफ हथियार भी उठाये थे और दुल्ला भट्टी ने ऐसी अनेकों लड़कियों को मुगलों से छुडाकर, उनका हिन्दू लड़कों से उनका विवाह कराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *