मिर्च खाने से दूर होगा आपकी इन बीमारियों का खतरा

भारत के अंदर अधिकत्तर लोग तीखा और मसालेदार खाना, खाना पसंद करते हैं। यहां, मिर्च के बिना स्वादिष्ट खाने की उम्मीद करना बेईमानी होगी। लिहाजा अधिकांश भारतीय लोग, अपने खाने में मिर्च को ज्यादा महत्व देते हैं, जो कि एक तरह से फायदेमंद भी है।

दरअसल एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि एक हफ्ते यानि 7 दिनों में 4 बार से अधिक समय पर मिर्च खाने से कार्डियो (हृदय) और सेरेब्रोवास्कुलर (मस्तिष्क में रक्त वाहिकाओं की बीमारी) डिजीज का जोखिम कम होता है। जिससे मृत्यु का खतरा भी घट जाता है।

लगभग 8 सालों की औसत अवधि के बाद, वैज्ञानिकों ने पाया कि जो लोग बहुत तीखा खाना या मिर्च खा रहे थे (जिससे उन्हें पसीना आ रहा था)। ऐसे लोगों में दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु का खतरा 40% तक कम हो गया था।

इंग्लैंड की एस्टन यूनिवर्सिटी में एस्टन मेडिकल स्कूल के अंदर रजिस्टर्ड डायटिशियन और सीनियर टीचिंग फेलो डॉक्टर डुआने मेलर का कहना है कि मिर्च के सेवन और हृदय रोग व स्ट्रोक के जोखिम के बीच संभावित खोज करने वाला यह एक दिलचस्प शोध है। जिससे पता चलता है कि डायटरी पैटर्न और जीवनशैली के हिस्से के रूप में मिर्च का उपयोग कैसे किया जाता है।

डॉक्टर के मुताबिक, क्योंकि मिर्च के अंदर कैपिसिसिन नामक पदार्थ पाया जाता है, जो काफी लाभदायक होता है। ये मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और लो ब्लड प्रेशर की स्थिति में ठीक माना जाता है। यही वजह हो सकती है कि मिर्ची या तीखा (स्पाइसी) खाने से हृदय रोग और स्ट्रोक का जोखिम कम हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »