नींद में खर्राटे ना आए इसके लिए करें आसान से घरेलू उपाय,जानिए कैसे

बहुत समय सोते समय लोग खर्राटे लेने लगते हैं।सारे दिन बहुत मेहनत करने के बाद जब व्यक्ति सोता है तो खर्राटे लेने लगता है, लेकिन ये कभी कभी होता है। लेकिन बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जो सोते ही खर्राटे लेने लगते हैं। लोगों को ये आम बात लगती है और लोग इस पर ध्यान नहीं देते हैं। पर क्या आप जानते हैं सोते समय खर्राटे लेने का मतलब है कि शरीर में आक्सीजन ठीक से नहीं जा पा रहा है। शरीर में आक्सीजन की कमी होने पर दिमाग़ में भी इसका असर पड़ता है। इस कारण दिल को भी ज्यादा जोर लगाना पड़ता है एवं दिल के धड़कने की गति बढ़ जाती है। और इसी वजह से रक्त चाप बढ़ जाता है। ऐसा ज्यादा होने से स्टोक या दिल का दौरा भी पड़ सकता है। सांस नली संकरी होने पर भी खर्राटों की दिक्कत होने लगती है। खर्राटों के कारण व्यक्ति के पास सोने वाले व्यक्ति को भी असुविधा होती है। आज हम आपको खर्राटों को बन्द करने का आसान सा घरेलू तरीका बताने की कोशिश करेंगे।

1) गर्म पानी- रात को सोने से पहले गर्म पानी पीने से खर्राटे आने की संभावना कम हो जाती है। ये गले की नली में मौजूद फैट को हटाने में सक्षम है।नियमित सेवन करने से खर्राटों की समस्या पूूूरी तरह से ठीक हो जाती है।

2) शहद- शहद हमारे रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है इसके साथ साथ शरीर में उपस्थित जीवाणुओं को भी नष्ट करने में सक्षम है। रोज रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद खाने से खर्राटे आना कम हो जाते हैं।शहद गले के स्नायुु को आराम प्रदान करता है।गले के उपस्थित जीवाणुओं को भी नष्ट कर देता है।

3) धूम्रपान- जो लोग ज्यादा धूम्रपान करते हैं, उनमें भी सोते वक्त खर्राटे लेने की समस्या होती है। धूम्रपान के कारण फेंफडो में आक्सीजन ठीक से नहीं जा पाता है, गले की नली भी सकरी हो जाती है इस कारण सांस लेते और छोड़ते समयज्ञ आवाज होने लगती है। धूम्रपान कम करने से भी इस समस्या से निजात पाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »