200 से भी अधिक मैच खेलने के बावजूद नहीं मिला इन चार खिलाड़ियों को कप्तानी करने का मौका, जानिए क्यों

जैसा की आप सभी को पता है की भारतीय टीम मौजूदा दौर की सबसे खतरनाक टीमों में से है भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में अब तक 33 खिलाड़ी कप्तानी कर चुके हैं। वहीं 24 खिलाड़ी वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम की कमान संभाल चुके हैं। इसके अलावा भारतीय क्रिकेट के इतिहास में कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे है जो भारत के लिए 200 से ज्यादा मैच खेले लेकिन उन्हें कप्तानी का मौका नही मिला हैं। इसी प्रकार आज हम आपको इस आर्टिकल में कुछ ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहा हूं जो 200 से भी ज्यादा वनडे में खेलने के बावजूद नहीं कर पाए हैं कप्तानी चलिए फिर शुरू करते हैं

1.वीवीएस लक्ष्मण
टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार वीवीएस लक्ष्मण ने 1996 में 2012 के दौरान अपने कैरियर में 134 टेस्ट और 86 वनडे मैच खेले है जिसमें उन्होंने एक भी मैच में कप्तानी नही की हैं। हालांकि वी एस लक्ष्मण कुशलता की कोई कमी नहीं थी वह एक बेहतरीन कप्तान बन सकते थे

2.जहीर खान

भारतीय टीम के सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाजों में शामिल जहीर खान ने 200 से लेकर 2014 के बीच 92 टेस्ट, 200 वनडे और 17 T20 मैच खेले लेकिन उन्हें एक बार भी कप्तानी का मौका नही मिला।

3.युवराज सिंह

युवराज सिंह टीम इंडिया के लिए 17 साल तक 402 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले है, जिसमें 302 वनडे मैच, 40 टेस्ट और 58 T20 मैच शामिल हैं। लेकिन वह कभी भारत के लिए कप्तानी करते नजर नही आएं।

4.शिखर धवन

साल 2010 से लेकर अब तक भारतीय टीम का अहम हिस्सा रहे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन 136 वनडे, 34 टेस्ट और 60 T20 में टीम इंडिया का हिस्सा रहे। लेकिन अब तक वह एक बार भी कप्तान के रूप में नजर नही आएं है हो सकता है आने वाले समय में शिखर धवन को कप्तानी करने का मौका मिले या नहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *