72 साल की महिला बनी मां, IVF तकनीक से मिला यह सौभाग्य

एक औरत की जिंदगी में सबसे बड़ा सपना यही होता है की शादी के बाद वो एक माँ बने. उसके गोद में कोई खेले कोई उसके आंगन में चिड़ियों की तरह चहकें. लेकिन आज के इस दौर में कई ऐसी महिलाएं हैं जिन्हें शादी के बाद यह सुखद अवसर नही नसीब होता है. ऐसे में वो या तो पूरी जिंदगी भगवान के भरोसे रहती हैं या फिर अपनी किस्मत पर रोती हैं। लेकिन किसी ने सही कहा है की जहां पर चाह हो वहीं राह होती है.

आज हम आपको एक ऐसी खबर के बारें में बतानें वाले हैं जिसे सुनकर आपको सच में बड़ी खुशी होगी। 72 साल की दलजिंदर कौर ने एक बच्चे को जन्म दिया.
दलजिंदर सिंह की शादी 46 साल पहले मोहिंदर सिंह से हुई थी. लेकिन शादी के बाद उन्हें संतान सुख नसीब नही हुआ. लेकिन दोनों को एक संतान की ललक थी और फिर उन्होंने अपने इस अमूल्य सपने को पूरा करने के लिए IVF-टेस्ट ट्यूब तकनीक का सहारा लिया.

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार दलजिंदर और मोहिंदर ने IVF टेस्ट के लिए 2013 में इसकी शुरुवात की. लेकिन शुरुवात के दो आईवीएफ साइकल नाकाम रहे लेकिन इन्होने अपना हिम्मत कायम रखा और उन्हें फिर कंसीव करने में कामयाबी मिली. इसके बाद इनका 46 साल पुराना सपना पूरा हुआ. वहीं नेशनल फर्टिलिटी एंड टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर डॉक्टर अनुराग बिश्नोई ने बड़ी खुशी जताई वहीं दलजिंदर अपने घर आए इस नन्हे मेहमान को लेकर काफी खुश हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »