शरीर के इस हिस्से को बार दबाएं, और फिर आप हैरान रह जाएंगे कि क्या होगा

हमारा शरीर एक रहस्य है। सदियां बीत गईं लेकिन इसके रहस्य अभी भी हमारी समझ से परे हैं। हमारे हाथ शरीर को स्वस्थ रखने का केंद्र हैं। हाथ हमारे शरीर को स्वस्थ रहने की ताकत और क्षमता प्रदान करते हैं। हम सभी जानते हैं कि हमारा शरीर पाँच मूल तत्वों से बना है। जब तक ये पांच तत्व संतुलित होते हैं, हमारा शरीर भी स्वस्थ और रोग मुक्त रहता है।

शरीर में कुछ ऐसे अंग होते हैं जिनके इस्तेमाल से हम कई तरह के स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं। वानिको का यह भी मानना ​​है कि इस अंग पर दबाव डालने से हार्मोन एंडोर्फिन बनता है जो दर्द से राहत देता है और शरीर में रक्त और ऑक्सीजन के प्रवाह में सुधार करता है। एक्यूप्रेशर या एक्यूपंक्चर दो चिकित्सा पद्धतियाँ हैं जिनमें मनुष्यों की शारीरिक बीमारियों का इलाज रक्त प्रवाह, ऑक्सीजन और ऊर्जा द्वारा किया जाता है।

एक्यूप्रेशर और एक्यूपंक्चर उपचार हमारे शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ाने में बहुत प्रभावी हैं। यह उपचार शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ाता है और साथ ही मांसपेशियों को आराम देता है और तनाव और परेशानी से भी छुटकारा दिलाता है। एक्यूप्रेशर चिकित्सा का उपयोग दर्द, थकान, सिरदर्द और तनाव जैसी सामान्य बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। आपको बता दें कि अंगूठा अग्नि सूचक है। उसकी तर्जनी उंगली हवा की ओर इशारा करती है, उसकी मध्यमा उंगली अंतरिक्ष की ओर, उसकी अनामिका पृथ्वी पर और बाकी उंगलियां पानी में।

एक्यूप्रेशर एक घरेलू उपचार है, यानी आपको इसके लिए डॉक्टर से परामर्श करने की आवश्यकता नहीं है। एक्यूप्रेशर चिकित्सा में, हाथ की उंगलियों पर एक विशिष्ट बिंदु पर दबाव डाला जाता है। यह आम बीमारियों जैसे दर्द, थकान, सिरदर्द, तनाव के इलाज में बहुत प्रभावी है। एक्यूप्रेशर एक बहुत पुरानी विधि है। इसके अलावा योग शरीर को स्वस्थ रखने के लिए भी बहुत उपयोगी है। इस ट्रिक का इस्तेमाल मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »