यह कार्य नंगे पैर शनि मंदिर में जाकर करें, जीवन में कभी कोई परेशानी नहीं आएगी

कब, कैसे, कहां और किस रूप में समस्या आती है, क्या नहीं कहा जा सकता है। जीवन में हमें अक्सर कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। अंतर केवल इतना है कि ये कठिनाइयां किसी के जीवन में बड़े रूप में आती हैं, किसी के जीवन में केवल छोटी और बड़ी समस्याएं। यह पूरी तरह से आपके भाग्य या दुर्भाग्य पर निर्भर करता है।

यदि आपकी किस्मत खराब है, तो यह परेशानी में आने का नाम नहीं ले रहा है। यदि आपके साथ भी ऐसा होता है, तो तनाव न लें। यह कहते हुए कि कोशिश करने के बाद, आपको दुर्भाग्य और मुसीबत से जल्दी छुटकारा मिल जाएगा। हमारा उपाय शनिदेव से संबंधित है। शनिदेव लोगों के कष्टों को दूर करने के लिए जाने जाते हैं। वह आपके ऊपर चल रहे ग्रहों के बुरे प्रभावों को ठीक करने में सक्षम हैं। 

इस उपाय को करने से पहले हम आपको सबसे पहले बताएंगे कि यह थोड़ा मुश्किल और दर्दनाक उपाय है। केवल अगर आप इसे पूरी तरह से करने में सक्षम हैं, तो इसे करें और आप इसे उपयोग न करें। इस दिन सुबह उठें, स्नान करें और पानी के अलावा कुछ भी न खाएं-पीएं नहीं। अब अपने शरीर पर काले कपड़े पहनें। फिर एक तेल का दीपक जलाएं। इन दोनों दीपकों को एक-एक करके अपने हाथ में उठाएं। फिर शनिदेव का ध्यान करें और अपने हाथ में इन दीयों को पकड़े हुए शनिमंदिर जाएं।

पैदल और नंगे पांव शनि मंदिर में जाएं। यहां अगर आप हथेली पर गर्मी महसूस करते हैं, तो आप इसे दो अलग-अलग प्लेटों में रख सकते हैं। शनि मंदिर पहुंचने पर इस दीप को नंगे पैर रखना इसलिए शनिदेव के चरणों में दो में से एक दीपक लगाएं। अब एक दीपक से शनिदेव की आरती करें। इसके बाद आरती खत्म होने के बाद आप शनिदेव को अपने जीवन की समस्याओं से अवगत करा सकते हैं। अब शनिदेव के पास एक और दीपक रखें और फिर दोनों हाथों से शनिदेव के सामने जमीन पर लेट जाएं।

इसके बाद थोड़ी देर शनि मंदिर में बैठें। अपनी सभी चिंताओं और परेशानियों पर काबू पाने की कल्पना करें। अपने दिमाग को आराम दें और तनाव को भूल जाएं। धीरे-धीरे सब कुछ शनिदेव पर छोड़ दें। जब आप बेहतर महसूस करते हैं, तो आप घर जाते हैं। आप इस उपाय में आवश्यक होने पर किसी अन्य व्यक्ति को अपने साथ ले जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »