भारत में क्या अनुमति नहीं दी जानी चाहिए? जानिए

१. कोई भी मेहमान आये तो पनीर की सब्जी बनाना गैरकानूनी होना चाहिए। कम्बख़्त, घूमने जाओ रिश्तेदारों के यहां तो 1 किलो पनीर पेट मे इकट्ठा हो जाता है।

२. चार आंसू बहाकर ब्लैकमेल करने को अनुमति तो बिल्कुल नही मिलनी चाहिए। माता-पिता ये आंसू बहाकर और “हाँ, भई अब हमारी क्या जरूरत” ये बोलकर बच्चों को ब्लैकमेल कर-करके गुनाह किये जा रहे हैं।

३. आम की गुठली को बेरहमी से निचोड़ के खाने की अनुमति नही दी जानी चाहिए। इंसान को चाहिए कि अपने पति/पत्नी के बाल खींचे, नोंचे ना कि गुस्सा आम की गुठली पर निकालें।

४. चींटियों की लाइन में उँगली करके उनकी दिशा भंग करने की कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए। नही तो यदि चीटियाँ अपनी तशरीफ़ से हमारी तशरीफ़ में धरने में बैठ गयी ना तो लाल हो जानी ए!!

५. सुई लगने के पहले ही “ऊई, आह, आउछ, उवाएँ-उवाएँ” इत्यादि करने की अनुमति बच्चो को भारत मे नही मिलनी चाहिए। ऐसे ही बच्चे बड़े होकर बॉलीवुड में अदाकारी करते हैं और स्टैण्डर्ड खराब हो जाता है इंडस्ट्री का।

६. जमाही लेते समय मुँह के सामने हाथ रखने की अनुमति नही होनी चाहिए। इससे सामने वाले के दाँत में दिख जाते है और हमको पता चल जाता है कि यदि तोड़ना पड़ा तो बत्तीसी तोड़नी है या फिर इकत्तीसी।

७. छोटी मासूम बहन की चॉक्लेट चुराकर खाना भी भारत मे ग़ैरकानूनी माना जाना चाहिए, तब ही मेरे जैसे लोग सुधरेंगे।

८. भारत के कोरा में ऐसे उत्तर लिखने की अनुमति नही होनी चाहिए, अन्यथा “असली ज्ञान” के नाम पर “फोकट का ज्ञान” परोसते रहेंगे मेरे जैसे लोग😁

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *