बीरबल को आदत थी तम्बाकू खाने की , पढिये अफलातून अकबर बीरबल के चुटकुले

1)बीरबल को तम्बाकू खाने की आदत थी । लेकिन अकबर राजा को तम्बाकू कहना पसंद नही था । एकदिन राजा अपने खेत मे घूम रहे थे तो उसने देखा कि तम्बाकू के खेत मे गधा घूम रहा है लेकिन फिर भी वह तम्बाकू के पौधे न खाकर, घास कहा रहा था । यह देखकर अकबर ने बीरबल को कहा । ‘देखो बीरबल, वह गधा कितना समझदार है कि वह तम्बाकु के खेत मे खड़ा है लेकिन फिर भी तम्बाकू नही खा रहा, और घास खा रहा है।’

 बीरबल ने अकबर को बड़ी चतुराई से उतर देते हुए कहा । ‘जी जहाँपनाह, तम्बाकू सिर्फ गधे ही नही नही खाते ।’ 

यह सुनकर राजा तथा उसके मंत्री भी हँसने लगे।

2)अकबर ने बीरबल से कहा । अकबर बोले,’ बीरबल , मुझे कोई ऐसा तरीका बताओ जिससे में खूब खा पी सकु लेकिन मेरा रोजा कभी ना टूटे ।

बीरबल ने बड़ी ही चतुराई से जवाब दिया ।राजा जी आप लोगो की लाते खाओ ओर अपना गुसा पी जाओ, आपका सब कुछ टूट जाएगा लेकिन रोज़ा कभी नही टूटेगा।

3)एक शिक्षक ने बच्चे से पूछा । ‘बता राजू, अकबर को था?’

राजू,’ पता नही सर, ‘

शिक्षक,’ बता, बीरबल कोन था?’

राजू,’ पता नही सर, तो शिक्षक ने डाँटते हुए राजू से कहा,’ पढ़ाई पे ध्यान दिया करो राजू,’

 लेकिन राजू ने शिक्षक से पूछा कि ‘आप बताइए, पिंटू, अप्पू, जय कोन है?’

शिक्षक ने जवाब दिया,’ पता नही,’

राजू,’ अपनी बेटी पे भी ध्यान दिया करो।’

4)अकबर ने बीरबल से कहा कि बीरबल कुछ ऐसा लिखो जिसे अगर गम के समय मे पढ़ा जाए तो ख़ुशी मीले और अगर खुशी वाले समय मे पढ़ा जाए तो गमगीन हो जाये।

बीरबल ने लिख दिया,’ ये वक्त भी गुजर जाएगा ।’

5)अकबर बहोत ही मज़ाकिया स्वभाव के थे। उसने बीरबल के जूते एकदिन कहि छुपा दिए। बीरबल अपने जूते ढूंढने लगे । उनको अपने जूते नही मीले तो बाद में बीरबल को नए जूते दिलवाने के लिए अकबर ने कहा । बीरबल को नए जूते दिलवाये गए। यह सब होने के बाद बीरबल ने राजा का शुक्रियादा करते हुए कहा,’ जहाँपनाह भगवान आपको ऐसे हज़ारो जुते दे।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »