दुनिया की एकमात्र ऐसी चमत्कारी जगह जहां एक साथ बने हुए है हजारों शिवलिंग,ये नदी एक साथ करती है सब शिवलिंग का अभिषेक जानिए आप भी

शिवजी पर जल अभिषेक करने की धार्मिक मान्यता है | शिव भक्त दूध दही जल आदि से शिवजी का अभिषेक करते है । पर आज हम एक नदी की बात करेंगे जो स्वयं हजारो शिवलिंग का अभिषेक करती है | यह नदी कर्नाटक में शलमाला नाम से जानी जाती है.

शिव को देवो का देव महादेव कहा जाता है इनके कई चमत्कार अपने हर जगह सुने होंगे लोग मंदिरो में लाके इनके शिवलिंग की पूजा करते है।

लेकिन एक ऐसी नदी जहॉ पर स्वयं से हजारो शिवलिंग बने हुए है ये नदी है कर्नाटक के शहर सिरसी में इस नदी का नाम है शलमाला ये नदी अपने आप में बेहद खास है क्योंकि इस नदी में हजारो शिवलिंग एक साथ बने हुए है।

ये शिवलिंग नदी की चट्टानों पर बने हुए है और यही नहीं इन चट्टानों में शिवलिंगो के साथ नदी , सांप आदी भगवान शिव के प्रियजनों की भी आकृतियां भी बनी हुई हैं हजारो शिवलिंग एक साथ होने की वजह से इस जगह का नाम सहस्त्रलिंग पड़ा।

मान्यता है की 16वीं सदी में सदाशिवाराय नाम के एक राजा थे वे भगवान शिव के बड़े भक्त थे और भगवान शिव की भक्ति में डूबे रहते थे और इस वजह से भगवान शिव की अध्भुत रचना का निर्माण करना चाहते थे इसलिए राजा सदाशिवाराय ने शलमाला नदी के बीच में भगवान शिव और उनके प्रियजनों की हजारों आकृतियां बनवा दीं।

नदी के बेच होने की वजह से शिवलिंगो का अभिषेक कोई और नहीं ब्लकि खुद शलमाला नदी करती है इस जगह पर सोमवार और शिवरात्रि पर काफी भीड़ देखने को मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads by Eonads
Translate »