जानिए सबसे बड़ा पॉवर हाउस भारत में कहाँ है?

पावर हाउस की अवधारणा अब बिजली उत्पादन की नहीं रही। बिजली उत्पादन जहाँ होता है उसे पावर प्लांट कहते हैं । मुख्यतः 3 तरह के पावर प्लांट होते हैं

कोयला/गैस आधारित (ताप बिजली घर)

जल प्रपात आधारित (पन बिजली घर)

नाभिकीय ऊर्जा आधारित (नाभिकीय बिजली घर)

इसके अलावा, पवन चक्की, सौर ऊर्जा, टाइडल एनर्जी आधारित बिजली घर भी होते हैं जो भारत में अभी गौण श्रेणी में हैं।

भारत में सबसे बड़ा पावर प्लांट मध्यप्रदेश में है – विन्ध्यनगर स्थित “विंध्याचल सुपर थर्मल पावर स्टेशन” है जिसकी स्थापित क्षमता 4760 मेगा वाट है [1] । यह एन टी पी सी का है [2]

चित्र स्रोत [3]

इसकी स्थापना 1982 में हुई थी और पहली यूनिट 1987 में रूस के सहयोग से चालु हुई । इसके विकास का क्रमवार विवरण है[4]

  • स्टेज 1: 1260 MW
  • स्टेज 2 से 4 : 1000 मेगा वाट प्रत्येक
  • स्टेज 5: 500 मेगा वाट
  • कुल 4760 मेगा वाट

कोयला यहाँ निगाही खदान से आता है और पानी सिंगरौली डिस्चार्ज कैनाल से।

देश का दूसरा सबसे बड़ा पावर प्लांट मुंद्रा थर्मल पावर स्टेशन है जिसकी क्षमता 4620 मेगा वाट है और जो अडानी ग्रुप का है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »