क्यों लिखा होता है स्टाम्प पेपर पर ‘भारतीय गैर न्यायिक (India Non Judicial)’?

स्टेंप पेपर एक फुलस्केप साइज का पेपर है जिस पर सरकार द्वारा विशिष्ट मूल्य के रेवेन्यू स्टेंप प्रिंट किए होते हैं, जैसे रु.10, रु. 20, रु. 50, रु. 100, रु. 500 आदि। आमतौर पर, कोई भी महत्वपूर्ण लेनदेन जैसे की कोई संपत्ति को किराए पर लेना, उसकी खरीदी या बिक्री स्टेंप पेपर पर किए जाने चाहिए।

स्टेंप पेपर राज्य की आय का स्रोत भी है।

स्टेंप पेपर का उपयोग पावर ऑफ अटॉर्नी देने या वित्तीय सौंदें, कॉन्ट्रैक्ट्स, एफिडेविट, घोषणाएं, आदि जैसे समझौते करने के लिए किया जाता है।

किसी भी देश में महत्वपूर्ण दस्तावेज तभी मान्य है जब उन्हें राज्य के कानून द्वारा निर्धारित मूल्य के स्टांप पेपर पर किया गया हो।

आजकल, स्टेंप पेपर स्टेंप विक्रेताओं से खरीदा जा सकता है या ई-स्टेंप पेपर का उपयोग भी किया जा सकता है। ई-स्टेंपिंग एक कंप्यूटर आधारित एप्लीकेशन है और इसे सरकार को नॉन-ज्यूडिशियल स्टेंप ड्यूटी भरने का एक सुरक्षित तरीका माना जाता है। प्रचलित स्टेंप पेपर को ई-स्टेंपिंग द्वारा प्रतिस्थापित किया जा सकता है। ई-स्टेंपिंग में यूनिक आइडेंटिफिकेशन नंबर भी होता है।

प्रत्येक कॉन्ट्रेक्ट दस्तावेज या कानूनी दस्तावेज के लिए विशेष मूल्य के स्टांप का उपयोग करना आवश्यक है। कानून ने विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों के लिए इस्तेमाल होने वाले विभिन्न मूल्य के स्टेंप पेपर को निश्चित किया है, अन्यथा दस्तावेज या अमल लागू नहीं हो सकता या तो वह अमान्य हो जाएगा या आपको स्टेंप अधिनियम के तहत जुर्माना भरना पड़ सकता है।

स्टेंप पेपर कॉन्ट्रेक्ट/लेन-देन में शामिल पार्टियों में से किसी एक के नाम पर खरीदा जा सकता है।

स्टेंप पेपर के प्रकार

दो प्रकार के स्टेंप पेपर का उपयोग होता है:

  • न्यायिक स्टेंप पेपर
  • गैर न्यायिक स्टेंप पेपर

न्यायिक स्टेंप पेपर

न्यायिक स्टेंप पेपर का उपयोग आमतौर पर कानूनी उद्देश्य या अदालत के मामलों में किया जाता है। न्यायिक स्टेंप पेपर को आमतौर पर अदालत शुल्क स्टेंप पेपर के रूप में भी जाना जाता है। नकद लेनदेन से बचने के लिए अदालत में न्यायालय शुल्क के भुगतान के लिए न्यायिक स्टेंप पेपर का उपयोग किया जाता है। कोई भी मामला अदालत शुल्क के भुगतान के बिना स्वीकृत नहीं किया जा सकता है।

गैर न्यायिक स्टेंप पेपर

गैर न्यायिक स्टेंप पेपर का इस्तेमाल आमतौर पर कानूनी दस्तावेजों के लिए किया जाता है, जैसे पावर ऑफ अटॉर्नी, सेल डीड, किराया करार, एफिडेविट, जमीन या मकान जैसी स्थिर संपत्ति का स्थानांतरण, मॉर्गेज या अन्य महत्वपूर्ण करार।

हाल में रु.5, रु.10, रु.20, रु.50, रु.100, रु.500, रु.1000, रु.5000, रु.10000, रु.15000, रु.20000 और रु.25000 की मूल्य वाले गैर न्यायिक स्टेंप पेपर उपलब्ध है।

सरकार द्वारा स्वीकृत कानूनी स्टेंप विक्रेताओं से स्टेंप पेपर खरीदने की सलाह दी जाती है।

इसीलिए जिसको हम अपना करना चाहते है ऐसे दस्तावेजों के लिए उचित स्टेंप पेपर का उपयोग करना अनिवार्य है और साथ ही, आपको स्टेंप अधिनियम में निर्धारित मूल्य के स्टेंप का ही उपयोग करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »