इस वजह से ही नहीं रखते अक्षय कुमार सिक्स पैक, जानिए क्यों

अक्षय कुमार बॉलीवुड के सबसे चहेते कलाकार है। लोग उनकी फिल्मों को देखना सबसे अधिक पसंद करते हैं और अक्षय कुमार बॉलीवुड में सबसे ज्यादा फिल्म में भी करते हैं। इसके बावजूद भी उनके सिक्स पैक नहीं है। आज हम आपको उसी घटना के बारे में बताएंगे। अक्षय कुमार जब अपनी फिल्म मिशन मंगलयान प्रमोशन के लिए कपिल शर्मा के शो पर आए थे तो उन्होंने बताया कि मैं सिक्स पैक क्यों नहीं रखता।

कपिल शर्मा के शो में अक्षय ने बताया कि कैसे अंडरटेकर को उठाने के बाद उन्हें स्लिप्ड डिस्क की समस्या हो गई थी. पहले आप वो किस्सा सुन लीजिए फिर बताते हैं कि स्लिप्ड डिस्क होता क्या है. अक्षय ने फिल्म में एक इल्लीगल रेस्लर का रोल किया था, जो यूएस में माया मैडम (रेखा) के कहने पर अपने जान की बाज़ी लगाकर दुनियाभर के रेस्लर्स से लड़ता है.

फिल्म के ऐसे ही एक सीक्वेंस में अक्षय को डब्ल्यूडब्ल्यूई के सुपरस्टार अंडरटेकर से भिड़ना था. अक्षय अंडरटेकर से भिड़ गए और उसे हरा भी दिया. लेकिन इस सीन ने उन्हें जीवन भर के लिए जख्म दे दिया. फिल्म ‘खिलाड़ियों का खिलाड़ी’ का वो सीन आप नीचे क्लिक कर देख सकते हैं।

अक्षय ने उस शो में बताया कि अंडरटेकर को उठाने वाला सीन तो उन्होंने बड़ी सफाई से शूट कर दिया था. लेकिन इसके बाद उन्हें डॉक्टर के पास जाना पड़ा और डॉक्टर ने उन्हें बेड रेस्ट की सलाह दी. बेड रेस्ट इसलिए क्योंकि अक्षय को स्लिप्ड डिस्क हो गया था. स्लिप्ड डिस्क जो है, वो रीढ़ की हड्डियों में होता है. एक नॉर्मल इंसान की रीढ़ बहुत सारी हड्डियों को मिलाकर बनती है. इन हड्डियों को एक-दूसरे से टकराने और उसकी वजह से चलने-दौड़ने में लगने वाले झटकों से बचाने के लिए उनके बीच दो लेयर होते हैं.

एक लेयर होता जेलेटिन जैसा कोई मटिरियल और दूसरी एक सख्त परत. जब सख्त परत कमज़ोर पड़ जाती है और उससे रीसकर जेल बाहर निकलने लगता है, उस कंडिशन को डॉक्टरों की भाषा में स्लिप्ड डिस्क कहते हैं. ये आम तौर पर भारी वजह उठाने से हो जाती है.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »