अयोध्या राम मंदिर भूमि पूजन: कब, कहां और कैसे देख सकते है भूमिपूजन की लाइव टेलीकास्ट

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन (Ram mandir Bhumi Pujan) कार्यक्रम शुरू हो चुका है. अयोध्या में राम जन्मभूमि पर होने वाले भूमि पूजन की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त 2020 को भूमि पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. चुनिंदा मेहमानों को यहां आमंत्रिक किया गया है. वहीं देशभर के लोगों के तक इस कार्यक्रम को पहुंचाने के लिए सीधा प्रसारण की व्यवस्था की गई है.

राम मंदिर के शिलान्यास समारोह में शामिल होने के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत अयोध्या पहुंच चुके हैं. प्रधानमंत्री मोदी के साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास के साथ कार्यक्रम के दौरान मंच पर मौजूद रहेंगे. श्री राम जन्म भूमि शिलान्यास कार्यक्रम मैं 21 वेद के विद्वानों का चयन किया गया है.

लाइव टेलीकास्ट

पूरा कार्यक्रम दूरदर्शन पर प्रसारित होगा और वहीं से अन्य समाचार चैनल दिखाएंगे. रामजन्मभूमि न्याय के अनुसार, पीएम मोदी पहले से ही तय 12:15 बजे पवित्र अभिजित मुहूर्त में आधारशिला रखेंगे. इससे पहले से लाइव टेलीकास्ट शुरू हो जाएगा. डीडी न्यूज लाइव और डीडी इंडिया लाइव पर 5 अगस्त को सुबह 6 बजे से अयोध्या में कार्यक्रमों का लगातार कवरेज शुरू हो जाएगा.

प्रधानमंत्री मोदी 05 अगस्त को अयोध्या जायेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 05 अगस्त को अयोध्या पहुंचने के बाद रामलला के दर्शन करेंगे और पारिजात वृक्ष लगायेंगे. पीएम मोदी सबसे पहले हनुमानगढ़ी मंदिर जाएंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 5 अगस्त को अयोध्या के निवासियों और अन्य लोगों को ‘रघुपति लड्डू’ कहे जाने वाले 1.25 लाख से अधिक लड्डू बांटे जाएंगे. पीएम मोदी 05 अगस्त को शुभ मुहर्त पर भूमि पूजन के बाद चांदी की ईंट से राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे.

भूमिपूजन के लिए 175 लोगों आमंत्रित किया गया

भूमिपूजन के लिए कुल 175 लोगों को श्री राम मंदिर ट्रस्ट से आमंत्रित किया गया है, जिसमें लगभग 135 संत शामिल हैं, जो देश के विभिन्न हिस्सों से आएंगे. कोरोना संकट के कारण सीमित मेहमानों को बुलाया गया है. भूमिपूजन को देखते हुए अयोध्या में बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहुंचने से पहले सुरक्षा-व्यवस्था के हर पहलू को पूरी बारीकी से जांच-पड़ताल किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »