हीरो और हौंडा कंपनी क्यों अलग हुई? जानिए कारण

हीरो-होंडा

महिन्द्रा-रेनॉल्ट

टी वी एस-सुज़ुकी

मारुति-सुजुकी

देसी-विदेशी जोड़ी वाली ये जॉइन्ट वेंचर या संयुक्त उपक्रम अर्थिक उदारवाद के विस्तार का परिणाम था।यह ऑटोमोबाइल सेक्टर ही नहीं अन्य कई सेक्टर्स में भी था या अभी भी है।अमेरिकी फ़ास्ट फ़ूड जायंट मैकडोनाल्ड का बख्शी ग्रुप के साथ या खुदरा बाजार में भारती-वालमार्ट का गठजोड़।

विदेशी कम्पनी भारत मे भारतीय कम्पनी की मदद से अपना विपणन नेटवर्क बनाना चाहती थी जबकि भारतीय कम्पनियों को उन्नत तकनीक की दरकार थी।दोनों एक दूसरे की पूरक।जब एक स्तर की क्षमता पैदा हो गई तो दोनों ने सहमति के आधार पर अपना अलग विस्तार कर लिया और कोलैबोरेशन ख़त्म हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
Translate »