74 वर्ष की उम्र में दो जुड़वा बच्चो को इस महिला ने दिया जन्म, और फिर जो हुआ

माँ बनना हर शादीशुदा महिला का सपना होता है जिसके चलते वह बच्चे की चाहत में वह अपने आत्म सुख तक को भूल जाती है लेकिन वहीं महिला जब उस सुख से वंचित हो जाए तो मानो ऐसा लगता है उस महिला का जैसे सब कुछ लुट गया हो ऐसी ही एक कहानी आंध्र प्रदेश के ईस्ट गुंटूर जिले के नेलापारथीपाडु शादीशुदा जोड़े की है जहां एरामती मंगयाम्मा और उनके पति ने भी शादी के बाद संतान के लिए प्रयास किया लेकिन संतान नहीं हुई।

काफी कोशिशों के बाद वो निराश हो गए और मां बाप बनने का उनका सपना टूट गया था लेकिन 74 साल की उम्र में आकर इस दम्पत्ति के साथ मानों चमत्कार हो गया हो, सूत्रो की मानें तो पिछले दिनों मंगयाम्मा के पड़ोस में रहने वाली 55 साल की एक महिला आईवीएफ तकनीक के जरिए मां बनी थी और इसी बात से मंगयाम्मा के भीतर मां बनने की ख्वाहिश ने फिर जोर दिया था।मंगयाम्मा अपने पति के साथ गुंटूर जिले में निजी अस्पताल अहिल्या नर्सिंग होम गई और वहां आईवीएफ एक्सपर्ट डॉक्टर संकयाला उमाशंकर से मिलीं। इसके बाद डॉक्टरों ने येरामती राजा राव के स्पर्म एकत्र किए और आईवीएफ तकनीक के जरिए काम शुरू किया। खुद डॉक्टरों को विश्वास नहीं था कि इतनी उम्र में गर्भाधान हो पाएगा या नहीं। लेकिन डॉक्टरों की मेहनत रंग लाई और मंगयाम्मा गर्भवती हो गई। उसके बाद एहतियातन मंगयाम्मा लगातार उसी नर्सिंग होम में डाक्टरों की निगरानी में रही।

ये अपनी तरह का विचित्र मामला है। 74 साल की एक महिला ने अपनी शादी के 54 साल बाद मां बनने का सुख पाया है। उसकी कोख से जुड़वां Twins बच्चे पैदा हुए हैं। कहा जा रहा है कि ज्यादा उम्र में मां बनने का यह विश्व रिकॉर्ड World Record बनने जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *