घर में नहीं होने चाहिए ये वास्तु दोष, आर्थिक स्थिति हो सकती है बहुत कमजोर

आपके घर की बनावट का वास्तु षष्ट से गहरा संबंध होता है। यदि आपके घर वास्तु दोष है तब आपकी आर्थिक स्थिति कमजोर हो सकती है। आपको बता दें की वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की उत्तर-पूर्व, उत्तर-पश्चिम तथा दक्षिण की दिशा को पैसे की दिशा माना गया है। यदि इन दिशाओं में किसी प्रकार का वास्तु दोष होता है तो आपकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने में समय नहीं लगता है। उद्धरण के लिए बता दें की जैसे उत्तर-पूर्व की दिशा का आपकी आर्थिक स्थिति से संबंध है और यदि इस दिशा में गंदगी रहती है तो आपके घर में पैसा नहीं टिकेगा।

उत्तर-पूर्व की दिशा में देवी लक्ष्मी का स्थान माना जाता है। यदि इस दिशा में अंधेरा रहता है तब आपकी आर्थिक स्थिति कमजोर होती चली जाएगी। वास्तु शास्त्र के अनुसार दक्षिण की दिशा यमराज की होती है अतः इस दिशा में कभी तिजोरी नहीं रखें। इसके अलावा आप अपने घर की उत्तर-पूर्व दिशा में किचन का निर्माण न कराएं। इस दिशा में रसोई होने से घर में कई प्रकार की समस्याएं आने लगती हैं।

घर के बीच का स्थान यानि मध्य का स्थान भी बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस स्थान पर आप कभी किसी भारी चीज को न रखें। साथ ही इस स्थान पर आप कभी गंदगी न रखें। मध्य के इस स्थान पर कभी सीढ़ियों का निर्माण न कराएं तथा शौचालय आदि न बनवाएं। यदि ऐसा करते हैं तो आपको आर्थिक तथा मानसिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। पश्चिम-नैऋत्य दिशा में किसी प्रकार का दरवाजा या बरामदा नहीं होना चाहिए। यह बहुत बड़ा वास्तु दोष कहलाता है। ऐसा होने पर मकान मालिक के आत्महत्या करने की संभावना रहती है। यदि आप इन चीजों का ध्यान रख कर अपने घर का निर्माण कराते हैं तो आप सदैव स्वस्थ तथा सुखी बने रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »