ये चीजें करेंगी थाइराइड को दूर,जानिए आप भी

आंकड़ों की मानें तो लगभग हर तीसरा भारतीय किसी न किसी थायराइड विकार से पीड़ित है. यह अक्सर वजन बढ़ाने और हार्मोनल असंतुलन की वजह बनता है. थायराइड हार्मोन अंगों के सामान्य कामकाज के लिए जरूरी होते हैं. इनमें किसी भी तरह के असंतुलन से विकार पैदा होते हैं.

मुख्य रूप से थायरॉइड विकार दो प्रकार के होते हैं- हाइपरथायरायडिज्म जो एट्रियल फिब्रिलेशन, ऑस्टियोपोरोसिस और फ्रैक्चर का कारण बन सकता है, और हाइपोथायरायडिज्म जो मायक्सेडेमा कोमा और मृत्यु का कारण बन सकता है. थायरॉइड समस्याओं का सबसे आम कारण ऑटोम्यून्यून थायराइड रोग है. 

घरों में आमतौर पर मिलने वाली चीजों में से एक अदरक है। इसमें मौजूद गुण जैसे पोटेशियम, मैग्नीश्यिम आदि थायराइड की समस्या से निजात दिलवाते हैं। अदरक में एंटी-इंफलेमेटरी गुण थायराइड को बढ़ने से रोकता है और उसकी कार्यप्रणाली में सुधार लाता है।

थायराइड की समस्या से गृसित लोगों को दही और दूध का इस्तेमाल अधिक से अधिक करना चाहिए। दूध और दही में मौजूद कैल्शियम, मिनरल्स और विटामिन्स थायराइड से ग्रसित पुरूषों को स्वस्थ बनाए रखने का काम करते हैं।

थायराइड के मरीजों को थकान बड़ी जल्दी लगने लगती है और वे जल्दी ही थक जाते हैं। एैसे में मुलेठी का सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है। मुलेठी में मौजूद तत्व थायराइड ग्रंथी को संतुलित बनाते हैं। थकान को उर्जा में बदल देते हैं। मुलेठी थायराइड में कैंसर को बढ़ने से भी रोकता है।

अश्वगंधा को एडापोजेनिक जड़ी-बूटियों की श्रेणी में रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *