भारतीय क्रिकेटर ने एक भी 6 नहीं मारा जबकि खेले 130 वनडे और 39 टेस्ट

जी हां हम बताने जा रहें उस नायब और एक मात्र भारतीय क्रिकेट के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर मनोज प्रभाकर के बारे में जिनके नाम अनोखा रिकार्ड दर्ज है कि 150 से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बावजूद वो कभी बल्लेबाजी के दौरान गेंद को हवा में ग्राउंड से बाहर मार पाए हो और ये बात और भी चकित तब कर देती जब उन्होने शतक भी मारा हो लेकिन ये सच है.

और मनोज प्रभाकर को ता उम्र इसका दुख भी है मनोज प्रभाकर 90 के दशक में महत्तवपूर्ण भारतीय ऑलराउंडर ने जो लगातार टीम का हिस्सा थे अपने अंतिम 16 टेस्ट मैचों में से उन्होने भारत को 10 टेस्ट मैच जीताने में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई थी लेकिन वहीं शिखर धवन जैसे बल्लेबाज 136 मैचों में 65 से ज्यादा छक्के लगा चुका है

हालांकि आपको बता दें कि उनके क्रिकेट का सफर बड़े ही अविश्ववसनीय तरीके खत्म हुआ सन् 1995-96 का वर्ल्ड कप चल रहा था एक मैच में उन्होने ने 4 ओवर में 47 रन दे दिए जिसके चलते भारत को हार का सामना करना पड़ा और उन्हें टीम से ड्रॉप कर दिया गया।

जिसके बाद उन्होने तुरंत अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया हालांकि की इसके बाद वो भारतीय राजनीति में उतरने का प्रयास किया लेकिन लोकसभा चुनावों में सफलता नहीं मिली जिसके चलते वो वापस क्रिकेट की दुनिया में आए और राजस्थान टीम के बालिंग कोच की भूमिका को अपनाया.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
Translate »