OPTICAL FIBRE क्या है ? जानिए

Optical Fibre केबल देखने में आम केबल से थोड़ा अलग होता है. जो आप Internet इस्तेमाल करते हो उस Internet को एक देश से दूसरे देश तक ले जाने का काम यही करता है.

Mobile और Laptop पर आप जिस Fast Internet को चलाते हो, यह इस Cable के वजह से ही संभव हो पाया है. इस Cable का इस्तेमाल मुख्यतः Telecommunication और High Speed Data transfer के लिए किया जाता है. तो चलिए जानतें हैं optical fibre cable क्या है और कैसे काम करता है.

Optical Fibre Cable क्या है ?

यह Cable सिलिका कांच या प्लास्टिक से बना हुआ होता है, इसकी सुरक्षा के लिए इसके ऊपर कई सारे Layers मौजूद होतें है. Internet से सभी देशों को जोड़ने के लिए Fibre Optic Cable समुन्द्र के निचे बिछाया जाता है.

Fiber Optic Cable

यह cable बाहर से देखने में तो साधारण केबल की तरह ही दिखता है लेकिन असली Optic Fibre, Layer के अंदर होता है.

जिस Optical Fibre में से data पास होता है वह हमारे बाल जितना पतला होता है इसे Optic Fiber कहा जाता है, और ऐसे कई हज़ारों Optic Fiber एक केबल के अंदर होते हैं
जो की कई Layers द्वारा सुरक्षित रहते हैं .

Fiber Optics

इस केबल में डाटा Light के form में गुजरता है, केबल में Data के Transfer होने का स्पीड इसके Refractive Index पर निर्भर करता है, इस केबल का Refractive Index इसके माध्यम पर निर्भर करता है.

optic cable के Refractive Index को प्रकाश की गति से भाग देने पर 2 लाख आता है. इसका मतलब इस केबल में से Light Data 2 लाख किलोमीटर प्रति सेकंड के Speed से Travel करता है.

यह Cable Total Internal Reflection के आधार पर काम करता है. जब Light को इस केबल में से विशिष्ट कोण से गुजारा जाता है तब यह आगे की तरफ Travel करता है और बाद में इस Light को electrical signal में convert कर दिया जाता है.

Optcal Fibre Cable कैसे काम करता है?

अब आप इतना तो जान ही गए हो की इस Cable में Data Transmission light के रूप में होता है. जब आप अपने mobile से Internet चलाते हो तब आपका डाटा Electrical Form में रहता है, लेकिन जैसे ही Data आपके Mobile से निकलकर Optical Fibre Cable के पास पहुँचता है वहीँ पर इसे Light Form में convert कर दिया जाता है.

Layers of Fiber Optic Cable

इस केबल के कुल 2 Layers होतें हैं पहला है Core और दूसरा है Cladding. Cladding लेयर का इस्तेमाल Optic Fibre और केबल की सुरक्षा के लिए किया जाता है, और Core में से light Data पास होता है.

जब light केबल में से Travel होता है तब हर 100 किलोमीटर दुरी के बाद इसकी क्षमता कम न हो इसलिए Amplifier का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे Data कई हज़ारों किलोमीटर का भी दूरी तय कर लेता है.

ligth इस केबल में से Total Internal Reflection के नियम के वजह से ही Travel कर पाती है. इस केबल में light की गति 2 लाख किलोमीटर प्रति घंटा रहती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
Translate »