मोदी सरकार ने लिया फैसला,1 सितंबर से बदल जाएगी यह 5 चीजें जाने आपकी जेब पर क्या पड़ेगा असर

आप सभी जानते हैं कि अनलॉक प्रक्रिया चार शुरू होने जा रही है जिसमें सरकार ने कुछ नए नियम बनाए हैं और इसने यह नियम के तहत लॉकडाउन में सरकार ने क्या-क्या छूट दिए हैं ,आपको बता दें कि 1 सितंबर से आम आदमियों की जेब पर अधिक बोझ बढ़ने बढ़ सकता है.

कैब ड्राइवर करेंगे हड़ताल

आपको बता दें कि दिल्ली अंसार में ओला और उबर कैब चलती हैं तो वहां के ड्राइवर हड़ताल कर सकते हैं आपको बता दें कि कोरोना काल की वजह से सभी लोग work-from-home कर रहे हैं और सभी यात्री अपने घर से ही रहकर काम कर रहे हैं जिससे कि उन्हें कोई भी सवारी नहीं मिल रही है और उनका टारगेट पूरा नहीं हो रहा है ऐसे में उनकी मांग पूरी करने के लिए वह हड़ताल पर जा सकते हैं.

रसोई गैस के दाम हो सकते हैं कम

एलपीजी सीएनजी और पीएनजी के दामों में गिरावट हो सकती है 1 सितंबर को पैट्रोलियम एलपीजी सिलेंडर की कीमत हो सकती है ऐसा माना जा रहा है कि आम आदमी को राहत मिल सकती है.

जीएसटी भुगतान में देरी पर लगेगा ब्याज

आपको बता दें कि 1 सितंबर से जीएसटी भुगतान भी देना अनिवार्य होगा। जीएसटी की 39 वीं बैठक में लिए गए इस फैसले के मुताबिक जीएसटी भुगतान में देरी के लिए ब्याज लिया जाएगा इसके लिए कानून को भी तो बना दिया गया है इस साल की शुरुआत में उद्यान के जीएसटी भुगतान में देरी पर लगभग 46000 करोड रुपए के बकाया राशि की वसूली के निर्देश पर चिंता जताई थी.

खत्म होगा लोन मोरेटोरियम
लॉकडाउन के दौरान कई लोगों की नौकरी चली गई थी। वहीं कई लोगों की सैलरी में कटौती हो रही थी। ऐसे में उन्हें लोन की किश्त चुकाने में मुश्किलें आ रही थी। इसमें सहूलियत देने के लिए वित्त मंत्रालय की ओर से लोन मेरेटोरियम का विकल्प
दिया था। इसमें एक निश्चित अवधि के लिए कर्जधारक को मासिक किस्त चुकाने में छूट दी गई थी। मगर 1 सितंबर से ये सुविधा खत्म हो जाएगी। ऐसे में कर्जधारकों को समय से लोन की किश्त चुकानी होगी।

हवाई यात्रा के लिए ढीली करनी होगी जेब
नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Civil Aviation Ministry) ने १ सितंबर से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों (Domentic एंड International Flights) से उच्च विमानन सुरक्षा शुल्क (ASF) वसूलने का फैसला किया है। एएसएफ शुल्क के तौर
पर अब घरेलू विमान सेवाओं पर प्रत्येक यात्री 150 की जगह 160 रुपए वसूला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *