खाना बांटते-बांटते भीख मांगने वाली लड़की से युवक को हुआ प्यार, रचाई शादी जानिए कैसे हुआ यह

लॉकडाउन के दौरान कई ऐसी कहानियां सामने आई हैं. जिसे सुनकर और देखकर आप हैरान रहे जाएंगे. उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक अनोखी शादी देखने को मिली है. जहां पर फुटपाथ पर खाना बांटने के दौरान एक युवक को भीख मांगकर खाने वाली लड़की से प्यार हो गया और दोनों ने शादी कर ली. इस शादी में कई लोग मौजूद थे और सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया.

समय कब, किसका, कहां, कैसे बदल जाए किसी को नहीं पता होता. गरीबी की वजह से फुटपाथ पर भिखारियों के साथ बैठने वाली नीलम को जो युवक रोज खाना बांटता था. उसी युवक ने नीलम के साथ सात फेरे लेकर उसकी मांग भरी और सात जन्मों के लिए उसे अपनी दुल्हन बना लिया. सामाजिक सोच बदलने वाली इस शादी के बारे में जिसने भी सुना वो हैरान रह गया.

नीलम के पिता नहीं हैं, मां पैरालिसिस से पीड़ित है. भाई और भाभी ने मारपीट कर घर से भगा दिया था. नीलम के पास गुजारा करने के लिए कुछ नहीं था. इसलिए वो लॉकडाउन में खाने लेने के लिए फुटपाथ पर भिखारियों के साथ लाइन में बैठती थी. अनिल अपने मालिक के साथ रोज सबको खाना देने आता था. इसी दौरान अनिल को जब नीलम की मजबूरियों का पता चला तो उसे उससे प्यार हो गया. फिर क्या भिखारी की लाइन से निकलकर नीलम सात जन्मों के लिए उसकी हमसफर बन गई.

अनिल एक प्रापर्टी डीलर के यहां ड्राइवर है उसका अपना घर है. माता-पिता, भाई सब हैं, जबकि नीलम की जिंदगी फुटपाथ पर भीख मांगकर चलती थी. उसे तो ये भी उम्मीद ही नहीं थी कि कोई उससे भी शादी कर सकता है. इस शादी को कराने में अनिल के मालिक लालता प्रसाद का सबसे बड़ा योगदान रहा. अनिल जब दिन में खाना बांटकर आता था, तो उनसे नीलम के बारे में बातें करता. लालता भी उसकी भावना समझ गए. इसके बाद लालता प्रसाद ने अनिल के पिता को शादी के लिए राजी किया और दोनों की शादी करा दी.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »