जानें ट्रेन के आखिर में क्यों होता है “X” का चिन्ह

हम सभी ने अपने जीवन में कभी न कभी तो ट्रेन के सफ़र का आनंद लिया ही है. बचपन की बात करे तो ट्रेन को देखने का शौक भी अलग ही होता है. ट्रेन से जुडी कई बाते ऐसी भी होती हैं जिन्हें हम कई बार देखते है लेकिन उनके पीछे का कारण नहीं जानते.

आइये बात करते है ट्रेन के डिब्बे के पीछे बने “X” के निशाँन की जिसे हम सभी ने हमेशा देखा है लेकिन क्या आपने यह सोचा इसके पीछे का क्या कारण है ? हो सकता है आपने तीन चार दोस्तों के बीच बैठ कर यह सवाल उठा भी दिया हो तो क्या आपको वहां से संतोषजनक उत्तर मिला ?

अंतिम बोगी पर एक्स का निशान बनाया जाता है जिससे यह पता चले कि ट्रैन पूरी हो चुकी है. रेलवे के कर्मचारी आखिरी एक्स वाकई बोगी को देखकर आश्वस्त हो जाते हैं कि ट्रेन में पहले से निर्धारित किए गए डिब्बे हीं लगे हैं और कोई डिब्बा यार्ड में नहीं रह गया है,

सिर्फ “X” का निशाँन ही नहीं बल्कि इसके साथ साथ आखिरी डिब्बे पर एक लैंप और एक LV का बोर्ड होना भी आवश्यक है जिसके बाद ही गाडी आगे बढ़ सकती है.

जानकारी के लिए बता दें , भारत में 7500 रेलवे स्टेशन है जिसमे रेलवे ट्रैक की लम्बाई 1,15,000 किलोमीटर है, जो 65,000 किलोमीटर के रूट पर है.रोजाना भारत में लगभग 11 हजार ट्रेने चलती हैं जिसमे 7 हजार ट्रेने पेसेंजर है जो की रोज 25 लाख यात्रियों की सेवा करती है. साथ ही भारत में रेलवे कर्मचारियों की संख्या का आंकड़ा 14 लाख से भी ऊपर है.

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »