जानिए आखिर कौन थी ‘फ्रोज़ेन लेडी ‘जो बर्फ की मूर्ति बनने के बाद भी जीवित बच गई?

ये कहानी ‘अमेरिका’ मे 1980 मे घटित हुई उस घटना की है जिसको देखकर बड़े बड़े वैज्ञानिक भी आश्चर्यचकीत रह गए |इस कहानी की मुख्य पात्र एक औरत है जिसका नाम ‘जीन’ है |यह बात सर्दियों की है जब जीन नाम की औरत अपने घर से किसी जरुरी काम के लिए बाहर गई थी और उसे आते वक़्त बहुत देर हो गई थी| लेकिन जब ‘जीन’ अपने घर लौट रही थी तब उसकी कर का अचानक ही एक्सीडेंट हो गया उसकी कार किसी पथ्थर से टकराने के बाद ख़राब हो गई |जीन ने बहुत कोशिश की लेकिन कार स्टार्ट नहीं हुई तो ‘जीन’ ने कार से उतरकर पैदल ही घर जाने का फैसला किया |

उस समय तापमान -30°था जिसकी वजह से ‘जीन’ उसे सहन नहीं कर पाई और अपने घर के कुछ ही दूर बेहोश हो गई और जब सुबह हुई तो ‘जीन’ के दोस्त ने अपने घर का दरवाजा खोला तो बाहर जीन को पड़ा हुआ देखा |जीन की हालत देखकर दोस्त के भी होश उड़ चुके थे उसने देखा की ‘जीन’ का शरीर बर्फ की वजह से जमकर एक मूर्ति बन चूका था |उसने तुरंत ही ‘जीन’ को हॉस्पिटल मे एडमिट किया लेकिन ‘जीन’ की हालत ऐसी थी की डॉक्टर्स को भी उसके बचने की उम्मीद नहीं थी फिर भी डॉक्टर अपना प्रयास कर रहे थे |डॉक्टर्स ने उसके शरीर को इलेक्ट्रिक वाली मशीन मे रखा ताकि उसके शरीर का तापमान काम हो सके लेकिन उसकी हालत मे कोई सुधार नहीं हो रहा था |

अगले दिन कुछ ऐसा हुआ की सभी डॉक्टर्स भी हैरान रह गए ‘जीन’ के दोनों पेरो मे हरकत होने लगी और वह अपने हाथो को भी मूवमेंट करवाना चाह रही थी |2-3दिन मे उसकी तबीयत मे पूरी तरह से सुधार आ चूका था लेकिन डॉक्टर्स ने उन्हें 40 दिन तक i.c.u मे भर्ती करके रखा था |

ये घटना कही पर पहली बार घटित हुई थी सभी लोगो को इस घटना ने अचंभित किया हुआ था |अब क्या था ‘जीन’ से मिलने वालों का तो जमावड़ा लग चूका था और तभी से उनका नाम ‘फ्रोजेन लेडी ‘ पड़ गया |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »