जानिए क्या पीएम मोदी फिर से बढ़ाएंगे लॉकडाउन?

कोराना वायरस (कोविड-19) महामारी के खिलाफ संघर्ष में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 14 अप्रैल तक के देशव्यापी पूर्णबंदी को बढ़ाये जाने के संकेत देते हुए शनिवार को कहा कि कोरोना विषाणु के संक्रमण का खतरा कम नहीं हुआ है और सरकार के कदमों के प्रभाव के आकलन के लिए आगामी तीन से चार सप्ताह का समय बहुत महत्वपूर्ण है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉक डाउन को कम से कम 30 अप्रैल तक बढ़ाये जाने के लिए कहा। उन्होंने कहा- यह फैसला राष्ट्रीय स्तर पर होना चाहिए, अगर राज्य अपने स्तर पर फैसला करेंगे तो उतना असर नहीं होगा। अगर किसी तरह की ढील दी जाए तो किसी भी सूरत में ट्रांसपोर्ट नहीं खुलना चाहिए। ना रेल, ना सड़क ना एयरलाइन।

सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री ने माना कि केन्द्र और राज्यों के समन्वित प्रयासों से कोराना के प्रभाव को कम करने में निश्चित रूप से मदद मिली है लेकिन स्थिति तेजी से बदल रही है और इसलिए इस पर सतत निगरानी बहुत जरूरी है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि आने वाले तीन से चार सप्ताह सरकार के कदमों के प्रभाव के आकलन के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। इस चुनौती का सामना करने में टीमवर्क बहुत अहम है।

जिन राज्यों में कोरोना के मामले नहीं हैं या न के बराबर हैं उनसे आंतरिक तौर पर लॉकडाउन हटा दिया जाएगा। कुछ क्षेत्रों को सीमित छूट मिलने की संभावना है। क्योंकि यदि लॉकडाउन को जारी रखा तो बड़े पैमाने पर विषम आर्थिक परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस हफ्ते पीएं मोदी उन उद्योगों को राहत पैकेज पर भी बात कर सकते हैं जिन्हें लॉकडाउन की वजह से भारी नुकसान उठाना पड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »