जानिए क्या कोरोना वायरस से लड़ने में मदद करती हैं पर्याप्त नींद

हम इस बात को पूरी गारंटी से नहीं कह सकते कि अच्छी नींद लेने से कोरोना वायरस के संपर्क में आने का खतरा कम हो जाएगा और इससे आपकी रक्षा होगी, लेकिन हम यह पूरे विश्वास के साथ कह सकते हैं कि गहरी नींद लेने से शरीर की वायरस से लड़ने की हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होगी। इसके अलावा कोरोना वायरस से बचाव के लिए हमें सुरक्षा के अन्य उपाय अपनाना भी समान रूप से जरूरी है।

आमतौर पर हम अपने शरीर की नींद की जरूरत पर बहुत कम ध्यान देते हैं। जानबूझकर भी हम अच्छी नींद की जरूरत को अनदेखा करते हैं, पर मौजूदा स्थिति काफी भयानक है और कोरोना वायरस का खतरा काफी गंभीर है। हमारे पास इन सब उपायों को अपनाने का पर्याप्त समय है।

शराब का कम से कम सेवन करें
शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए नींद को अच्छा करने के लिए मैंने शराब का सेवन कम से कम कर दिया है। शराब पीने से अच्छी नींद लेने में मदद नहीं मिलती, पर इससे कुछ समय के लिए दर्द से राहत मिलने का संतोष जरूर महसूस होता है। शराब पीने के बाद जब भी मैं सोया हूं तो मेरी बेचैनी काफी बढ़ गई है। मैंने अपने स्लीप ट्रैकर से नोटिस किया कि जिन रातों में मैं वाइन के कुछ गिलास पीने के बाद सोया, उन रातों को मेरी औसत हार्ट रेट 15 फीसदी बढ़ गई।

कॉफी पीनी हो तो दिन में जल्दी पीएं
मुझे कॉफी बहुत पसंद है लेकिन मैं दोपहर 3 बजे बाद कॉफी पीने से बचता हूं। यह एक स्टिमुलेंट है और आपको सोने से रोक सकता है अथवा इसके कारण आप सोने के बाद भी उठ सकते हैं। स्टिमुलेंट के असर को आपके शरीर से उतरने में काफी लंबा समय लगता है।

सोते समय बेड में कोई गैजेट न हो
यह करना काफी मुश्किल है, लेकिन नींद से शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बहुत जरूरी है। मैं मोबाइल और टीवी को सोने के 2 घंटे पहले बंद कर देता हूं। गैजेट्स के स्‍क्रीन की नीली रोशनी मेरे शरीर के स्लीप हार्मोन (मेलाटोटिन) में गड़बड़ी पैदा कर देती है। लगातार नकारात्मक खबरें देखते रहने से नींद आने में काफी मुश्किल होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »