जानिए रेड मीट खाने के नुकसान

देश और दुनिया में एक बड़ा तबका लाल मांस यानी रेड मीट खाता है। कई सदियों से लोग रेड मीट का सेवन करते आ रहे हैं। क्या आपको पता है कि रेड मीट खाना कितना खतरनाक हो सकता है। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि रेड मीट के नियमित सेवन से मौत भी हो सकती है। दरअसल, रेड मीट खाने से शरीर के अंदर कई तरह की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है, जो आगे चलकर जानलेवा भी साबित हो सकती हैं।

एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि नियमित रूप से लाल मांस (रेड मीट) खाना मानव शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। ये मृत्यु दर (मरने वालों की संख्या) को बढ़ाता है। शोध के मुताबिक रेड मीट खाने से कई गंभीर जानलेवा बीमारियां हो सकती हैं।

कई अवलोकन अध्ययनों में पाया गया कि रेड मीट से हृदय संबंधी रोग होने का खतरा अत्यधिक बढ़ जाता है। हालांकि सभी प्रकार के रेड मीट इस स्थिति का कारण नहीं बनते हैं। एक बड़ी संख्या में आबादी पर कई अध्ययन किए जा चुके हैं, जिनमें पाया गया कि लाल मीट खाने से हृदय रोग और डायबिटीज होने का खतरा अत्यधिक बढ़ जाता है। लेकिन इस अध्ययन में बिना तैयार मांस से होने वाली स्थितियों के कारणों की पुष्टि नहीं हो पाई।

कुछ अध्ययनों में पाया गया कि अत्यधिक मात्रा में प्रोसेस्ड रेड मीट खाने से कोलन कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। कोलन (बड़ी आंत) का कैंसर दुनियाभर में चौथा सबसे अधिक होने वाला कैंसर है। अध्ययन में यह भी पाया गया कि प्रोसेस्ड और अनप्रोसेस्ड रेड मीट दोनों को एक साथ काफी अधिक खाया जाता है।

कुछ अध्ययनकर्ताओं के अनुसार रेड मीट कैंसर का कारण नहीं बनता, बल्कि उसे पकाते समय उसमें हानिकारक तत्व पैदा हो जाते हैं जो कोलन कैंसर होने का खतरा बढ़ाते हैं। इसलिए रेड मीट को पकाने का तरीका भी कैंसर का कारण बनने वाली कई स्थितियों से जुड़ा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »