जानिए कोरोना वायरस फैलने का वैज्ञानिकों ने किया सबसे बड़ा खुलासा!

अब तक का सबसे बड़ा खुलासा! कौन है हजारों मौत का जिम्मेदार। चीन के दो शोध वैज्ञानिकों के दावे के बाद अब इन आशंकाओं ने जोर पकड़ लिया है कि चीन वुहान की एक प्रयोगशाला में जैविक हथियार बना रहा था जो गलती से उसी की धरती पर लीक हो गया है।

चीनी साइंटिस्टों का मानना है कि हो सकता है Corona Virus की शुरुआत वुहान के फिश मार्केट में 300 गज फैली एक सरकारी रिसर्च लैब से हुई हो। चीन की सरकारी साउथ चाइना यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी के मुताबिक, हुबेई प्रांत में वुहान सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (डब्ल्यूएचडीसी) ने रोग फैलाने वाली इस बीमारी के वायरस को जन्म दिया हो।

अब चाइना के ही दो शोधकर्ता बोताओ शाओ और ली शाओ ने कहा है कि हो सकता है वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने वायरस लीक किया गया हो। इन दोनों चीनी शोधकर्ताओं ने यह भी कहा है कि जिन चमगादड़ों को कोरोनावायरस की वजह बताया जा रहा है

रिपोर्ट में बताया कि रोगियों में मिले जीनोम सीक्वेंस 96 या 89 फीसदी थे, जो बैट सीओसीजेडसी45 Corona Virus के समान हैं लेकिन ये मूल रूप से राइनोफस एफिनिस में पाए जाते हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि यहां मौजूद देसी चमगादड़ वुहान के सीफूड मार्केट से करीब 600 मील दूर पाए जाते हैं। और यूनन व झेजियांग प्रांत से उड़कर आए चमगादड़ों की संख्या शायद बहुत कम रही होगी।

कुछ एजेंसियों का यह भी कहना है कनाडा की लैब से चीन ने कोरोना वायरस चुराया और वुहान की सरकारी लैब में जैविक हथियार विकसित कर रहा था। इसी बीच किसी चूक से वायरस लीक हो गया। ध्यान रहे कुछ दिन पहले सिएटल के फ्रेड हचिसन केंसर रिसर्च सेंटर के वैज्ञानिक ट्रेवर बेडफोर्ड ने दावा किया था कि जीन वुहान की सरकार लैब में जैविक हथियार बना रहा है। यह कोराना वायरस चीन का ही जैविक हथियार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »