जानिए सेब के सिरके के फायदे

पिछले कुछ वर्षों में एप्‍पल सिडर विनेगर काफी लोकप्रिय हुआ है। घर के कई कामों और खाना पकाने में इसका इस्‍तेमाल किया जाता है। आजकल बाजार में कई तरह के विनेगर मौजूद हैं लेकिन इनमें एप्‍पल सिडर विनेगर सबसे ज्‍यादा पसंद किया जाता है। ये पोषक तत्‍वों से भरपूर है और इससे सेहत को अनेक फायदे भी मिलते हैं।

सेब के जूस को खमीरीकृत कर के तैयार हुए सिरके को एप्‍पल सिडर विनेगर कहा जाता है। पहले सेब का रस निकाला जाता है और फिर उसमें यीस्‍ट डालकर फ्रूट शुगर को एल्‍कोहल में बदला जाता है। इस प्रक्रिया को खमीरीकरण कहा जाता है। इसके बाद एल्‍कोहल में बैक्‍टीरिया डाला जाता है जो इसे एसिटिक एसिड में बदल देता है। एसिटिक एसिड और मैलिक एसिड से सिरके को खट्टा स्‍वाद और अनोखी महक मिलती है। इसका रंग हल्‍के पीले से लेकर नारंगी होता है। चटनी, मैरिनेड, सलाद के ऊपर डालने और डिब्‍बाबंद खाद्य पदार्थों आदि में इसका इस्‍तेमाल किया जाता है। सेब के सिरके के फायदे –

सेब के सिरके के फायदे बालों के लिए –
सेब के सिरके से बाल धोने से बालों की सारी गंदगी निकल जाती है। इससे बालों की बहुत अच्छी सफाई हो जाती है। यदि आपके बालों में रूसी की समस्या है तो सेब के सिरके और पानी को बराबर मात्रा में मिलाएँ और तब तक इसका इस्तेमाल करें जब तक कि रूसी ख़त्म ना हो जाए।

झड़ते बालों के लिए 3 कप सेब के सिरके में, 3 कप पानी और 3 से 4 बूँद रोज़मेरी तेल को मिलाकर उसे बोतल में रखें और जब भी आपको सिर धोना हो तब उसे थोड़ी देर पहले जड़ो में अच्छी तरह लगा लें। उसके कुछ देर बाद बालों को कंडीशनर से धो लें। इससे आपके बालों की झड़ने की समस्या भी ख़त्म हो जाएगी और आपके बाल मजबूत, लंबे तथा चमकदार बनेंगे।

सेब के सिरके के लाभ रक्त शर्करा को कम करें –
सेब के सरीके की कुछ बूंदें आपके ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करती हैं। कई अध्ययनों द्वारा यह पता चला है की सेब के सिरके का उपयोग ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है। सेब के सिरके में एसीटिक एसिड होने की वजह से यह मंद पाचन में सहायक होता है। जिससे रक्त नलिकाओं में शुगर का स्तर कम होता है। एसीटिक एसिड का उपयोग मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत अच्छा होता है। परन्तु इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करें।

एप्पल साइडर विनेगर वेट लॉस के लिए –
सेब का सिरका चर्बी को कम करने में भी सहायक होता है। इसमें रक्त शर्करा को नियंत्रित करने की क्षमता होती है जिससे वजन कम होता है और इसमें मौजूद एसीटिक एसिड भी भूख को कम करने में मदद करता है। यदि आप मोटापे से परेशान हैं, तो रोज रात को 2 चम्मच सिरका गुनगुने पानी के साथ मिलाकर पिएं या आप इस मिश्रण में शहद को मिलाकर भी पि सकते हैं। इससे आपका मोटापा कम हो जाएगा।

सेब के सिरके का फायदा खराब कोलेस्ट्रॉल के लिए –
सेब के सिरके में पेक्टिन मौजूद होता है जो शरीर के अंदर खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। कई लोगों को पेक्टिन से एलर्जी भी होती है। यदि आपको सेब के सिरके से एलर्जी है,तो आप इसका सेवन ना करें।

सेब का सिरका बेनिफिट्स सूजन में उपयोगी –
यदि आपकी त्वचा पर धूप से जलने के कारण सूजन हो रही है, तो सेब के सिरके को पानी में मिलाएं और उस पानी से नहाएं , इससे सूजन कम हो सकती है। अगर आपकी आहर नली में सूजन है तो आप इसका सलाद या पानी के साथ सेवन करें, इससे सूजन ख़त्म हो जाती है। सेब का सिरका पैर और टखने की सूजन को ठीक करने में भी मदद करता है। एक तौलिये को गरम पानी और सेब के सिरके के मिश्रण में भिगों दें और थोड़ी देर तक इस तौलिये को प्रभावित हिस्से पर लपेट कर रखें, ऐसा करने से सूजन कम होती है।

सेब के सिरके के लाभ बढ़ाए नाखूनों की चमक –
मैनीक्योर करवाने के लिए हमें पार्लर जाना पड़ता है, परन्तु मैनीक्योर करवाने के लिए इतना टाइम पार्लर में देने के बाद भी नाखूनों में सिर्फ़ एक या दो दिन तक ही चमक रहती है। उसके बाद वो चमक खो जाती है। सेब के सरीके का इस्तेमाल मैनीक्योर करने के लिए किया जा सकता है। लंबे समय तक नाखूनों की चमक को रखने के लिए मैनीक्योर करने से पहले सेब के सिरके को अपने नाखूनों पर लगा कर सूखने दें। इस प्रक्रिया से नाखूनों में मौजूद तेल आसानी से निकलता है जिससे पोलिश नाखूनों पर लंबे समय तक रहती है।

एप्पल साइडर विनेगर के फायदे शेविंग के लिए –
शेविंग करने के बाद चेहरे की त्वचा रेज़र के कारण कट या छिल सकती है। इस कटी हुई त्वचा को राहत देने के लिए आफ्टर शेव लोशन का इस्तेमाल किया जाता है। इस लोशन के बजाए आप सेब के सिरके का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसमें मौजूद एंटीसेप्टिक गुणों के कारण यह कटी हुई त्वचा को ठीक करता है। साथ ही यह त्वचा को नमी देता है तथा बंद रोम छिद्रों को खोलता है। एक बोतल में सेब के सिरके और पानी का मिश्रण मिलाकर रख लें और आसानी से इसका प्रयोग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *