मछलियों का जोड़ा घर में रखना माना जाता है शुभ,घर में आती है लक्ष्मी

मछली को बहुत शुभ माना जाता है। शादी के रिती रिवाज़ में भी मछली का होना बहुत ज़रूरी होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि मछली की मदद से आपकी राशि के कमजोर व बिगड़े ग्रह भी सही हो सकते हैं। मछली के होने से आपके घर व कार्यस्थल पर सकारात्मक ऊर्जा निवास करती हैं, अब आप सोच रहे होंगे कि भला कैसे…

दरअसल, घर में मछलियों का जोड़ा रखने से सारी नकारात्मक ऊर्जा सकारात्मक ऊर्जा में तब्दील हो जाती हैं। यही नहीं, घर व कार्यालय में मछलियों के जोड़े को लटकाने से सौभाग्य में वृद्धि भी होती हैं। बात अगर वास्तुशास्त्र एवं फेंगशुई की करें, तो इससे व्यक्ति की निर्णय लेने की क्षमता और मानसिक शक्ति में तेज़ी से वृद्धि होती है जो इंसान को काफी आगे ले जाती है।

मछली का मीन राशि से संबंध

मछली का प्रतिरूप आकाश में तारों के माध्यम से मीन राशि के रूप में प्रदर्शित होता है। जान लें कि तारों से मिलकर बनने वाली आकृति दो मछलियों के जोड़ों को बखूबी दर्शाती है। वहीं, ज्योतिषशास्त्र में इसे मीन राशि की संज्ञा भी दी गई है। ध्यान रहें कि मीन राशि का नियंत्रण देवताओं के गुरु बृहस्पति के पास होता है। बता दें कि देवगुरु बृहस्पति को शुभ ग्रह माना गया है, जिसके प्रभाव से व्यक्ति ज्ञानवान होकर सुख-समृद्धि, मान-सम्मान, समाज में प्रतिष्ठा अर्जित करता है। याद रहे कि शुभता के लिए मछली का जोड़ा खास बृहस्पतिवार के दिन घर-कार्यालय में टांगा जाए, तो यह और भी प्रभावशाली परिणाम देता है।

मछली को घर में टांगने की सही दिशा

यह तो आप जानते ही हैं कि मछली का सही दिशा में टांगना कितना ज़रूरी है, क्योंकि मछली का जोड़ा- वास्तुशास्त्र के अनुसार, सही दिशा में रखने से सकारात्मक प्रभाव शीघ्र ही प्राप्त होने लगता है। यही नहीं, पूर्व दिशा अथवा उत्तर दिशा अथवा पूर्व और उत्तर के मध्य की दिशा, ईशान कोण में मछली का जोड़ा लटका लेने से घर के सदस्यों का भाग्योदय हो जाता है। दूसरी ओर, इसे दुकान में लटका लेने से आय में वृद्धि भी होती है और साथ ही कार्यालय में इसका प्रयोग उन्नतिकारक होता है।

गोल्ड फिश का महत्व

जान लें कि प्रेम और संपन्नता का प्रतीक गोल्ड फिश कहलाती है। वहीं, फेंगशुई में गोल्ड फिश को सबसे अधिक पवित्र एवं संपन्नता देने वाला माना गया है। अगर आपके घर में बड़ा एक्वेरियम रखने की जगह नहीं है, तो आप दो मछलियों वाला छोटा एक्वेरियम भी रख सकते हैं। बता दें कि जोड़ा मछली को प्यार का प्रतीक माना जाता है। आप चाहे तो क्रिस्टल की मछलियों का जोड़ा भी अपने बेडरूम में रख सकते हैं।

मछली भगवान विष्णु का मत्स्य अवतार

यह तो आप जानते ही होंगे कि धन जो है वह जल की तरह चलायमान होती है। शास्त्रों में, लक्ष्मी को चंचला कहा गया है। इस बात का ध्यान रहें कि मछली जल से जुड़ी होने के कारण और भगवान विष्णु के मत्स्य अवतार का स्वरूप होने की वजह से लोगों के बीच शीघ्र ही आकर्षित हो जाती है। ध्यान दें कि मछली का जोड़ा आपके रुके हुए कार्य को पानी के बहाव की तरह पूरी करने लगता है।

वहीं, हमारे हिन्दू धर्मशास्त्रों में इस बात का उल्लेख है कि भगवान विष्णु मत्स्य अवतार लेकर पृथ्वी पर पधारे। यह तो हम सभी जानते हैं कि धन की देवी लक्ष्मी जी भगवान विष्णु की पत्नी हैं, इसलिए मछलियों की किसी भी प्रकार की सेवा अथवा मछलियों से संबंधित उपाय करने से आपके धन संबंधित भाग्य प्रबल होने लगते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »