जंक फूड का सेवन है मुँहासे का कारण जानिए कैसे

आज के समय में हर कोई फास्ट या जंक फ़ूड का दीवाना होता जा रहा है। आजकल लोग पौष्टिक आहार को कम अहमियत देने लगे हैं। बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी को जंक फूड खाने का बहाना चाहिए। जंक फूड से होने वाले नुकसान के बारे में सब अच्छे से जानते हैं, लेकिन बावजूद इसके इस चीज के सेवन में कमी नहीं आ रही है। कई अध्ययनों से पता चला है कि फास्ट फूड और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों से बचपन में मोटापे, हृदय रोग और मधुमेह और अन्य बीमारियों में वृद्धि हुई है।

फास्ट-फूड में मौजूद अतिरिक्त कैलोरी से वजन बढ़ता है। यह मोटापे का कारण हो सकता है। अस्थमा और सांस लेने में तकलीफ सहित, यह कई प्रकार की श्वसन समस्याओं के लिए यह जोखिम को बढ़ाता है। अतिरिक्त वजन आपके दिल पर दबाव डाल सकता है। इससे आप चलने, सीढ़ियों पर चढ़ने या कसरत करने में परेशानी महसूस कर सकते हैं। विशेष रूप से बच्चों के लिए, श्वसन समस्याओं का खतरा अधिक बढ़ जाता है। एक अध्ययन में पाया गया कि जो बच्चे सप्ताह में कम से कम तीन बार फास्ट फूड खाते हैं उन्हें अस्थमा होने की अधिक संभावना होती है। तो आइये जानते हैं जंक फूड से होने वाले नुकसान के बारे में –

जंक फूड बनता है सिरदर्द का कारण –
सोडियम से भरपूर फ़ास्ट फ़ूड का सेवन, जैसे कि फ्रेंच फ्राइज़ आदि से सिरदर्द का खतरा बढ़ सकता है। ऐसे में आपको जंक फूड का अधिक सेवन न करके अधिक से अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए।

फास्ट फूड बन सकता है अवसाद का कारण –
फास्ट फूड और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों का अधिक मात्रा में सेवन अवसाद के लिए आपके जोखिम को बढ़ा सकता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि जंक फूड के अधिक सेवन से शरीर के हार्मोन का संतुलन बिगड़ जाता है। जिसके कारण डिप्रेशन की समस्या हो सकती है।

जंक फूड का सेवन है मुँहासे का कारण –
जंक फूड जैसे खाद्य पदार्थ आपकी त्वचा को प्रभावित कर सकते हैं, लेकिन हो सकता है कि आपको इनका पता हों। चॉकलेट और अन्य फ़ास्ट फ़ूड को मुंहासे के लिए जिम्मेदार माना जाता है। फ़ास्ट फ़ूड में मौजूद कार्ब्स मुँहासे पैदा कर सकते हैं। फ्रेंच फ्राइज़, हैमबर्गर बन्स और आलू के चिप्स जैसे कार्ब-हैवी फास्ट फूड मुँहासे के ब्रेकआउट का कारण हो सकते हैं।

दांतों की सड़न का कारण है जंक फूड –
फास्ट फूड में मौजूद कार्ब्स और चीनी एसिड का उत्पादन करते हैं जो दाँत तामचीनी (Tooth enamel) को नष्ट कर सकते हैं। इसके अलावा ये कैविटीज़ का भी कारण बन सकते हैं।

हार्ट डिजीज का कारण बन सकता है फास्ट फूड –
हाई कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप हृदय रोग और स्ट्रोक के जोखिम बढ़ाने वाले दो मुख्य कारण हैं। फास्ट फूड आम तौर पर सोडियम से भरपूर होते हैं जो रक्तचाप को बढ़ा सकती हैं, जिसमें हृदय की विफलता भी शामिल है।

हाई ब्लड प्रेशर का कारण बनता है फास्ट फूड –
सोडियम हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों के लिए भी खतरनाक हो सकता है। सोडियम आपके रक्तचाप को बढ़ा सकता है और आपके दिल और हृदय प्रणाली पर तनाव डाल सकता है। एक अध्ययन के अनुसार, लगभग 90 प्रतिशत वयस्कों को यह पता नहीं लगा कि उनके फास्ट-फूड भोजन में कितना सोडियम है।एक अध्ययन 993 वयस्कों का सर्वेक्षण किया और पाया गया कि उनका अनुमान वास्तविक संख्या (1,292 मिलीग्राम) से छह गुना कम है। अमेरिकी हार्ट एसोसिएशन ने वयस्कों को प्रति दिन 2,300 मिलीग्राम से अधिक सोडियम खाने से मना किया है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Translate »
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x