IPL से पहले धोनी ने कराई थी कोविड-19 की जांच, जानिए कैसा रहा धोनी का कोरोना टेस्ट

IPL 13 का आयोजन इस साल 29 मार्च से होना था लेकिन कोविड 19 महामारी के कारण इसे अनिश्चितकाल तक के लिए स्थगित कर दिया गया था लेकिन अब आईपीएल 2020 के 13वें एडिशन का आयोजन 19 सितंबर से UAE में होगा। आईपीएल के इतिहास में ऐसा तीसरी बार होगा जब इसका आयोजन भारत से बाहर हो रहा है। इससे पहले साल 2009 में लोकसभा चुनाव के कारण आईपीएल का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में और 2014 में यूएई में हुआ था।

आपको बता दें कि, BCCI ने खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए बेहद सख्त नियम बनाए है। नियमों के मुताबिक खिलाड़ियों को UAE रवाना होने से पहले 2 बार अपनी कोविड-19 की जांच करवानी होगी। दोनों जांच निगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ी को IPL खेलने की मंजूरी दी जाएगी।इसके बाद जब टीमें यूएई पहुंचेगी तो सभी टीमों के खिलाड़ियों को छह दिनों तक होटल में क्वारंटीन किया जाएगा।

इसी नियम के तहत चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बुधवार को रांची के गुरुनानक अस्पताल ने उनके फार्महाउस जाकर सैंपल लिया था, जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब धोनी की दूसरी जांच चेन्नई पहुंचने के बाद सीएसके कैंप में की जाएगी। धोनी के रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उनके आईपीएल खेलने और यूएई जाने का रास्ता साफ हो गया है। लंबे समय से क्रिकेट के मैदान से दूर चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की वापसी पर सभी की निगाहें जमी हैं। धोनी इन दिनों रांची में हैं और आईपीएल की तैयारियों में जुटे हैं।

धोनी के करियर के लिए यह सीजन बेहद ही अहम है, क्योंकि कहा जा रहा है कि इस लीग के प्रदर्शन के आधार पर ही अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए उन्हें भारतीय टीम में जगह मिलेगी। धोनी ने आईपीएल के 190 मैच में 42.40 की शानदार औसत से 4432 रन बनाए हैं। उनकी कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने तीन बार आईपीएल का खिताब जीता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »