अंतराष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड ने क्रिकेट मैचों के नियमों में किए बड़े बदलाव भारतीय क्रिकेट सचिन तेंदुलकर ने किया स्वागत

दुनिया भर में खेले जाने वाले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों में अब लार एवं थूक से गेंद चमकाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड आईसीसी ने यह फैसला लिया है वही भारतीय टीम के मशहूर क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने आईसीसी क्रिकेट बोर्ड द्वारा लिए गए इस फैसले का स्वागत किया है सचिन तेंदुलकर ने कहां की लार एवं थूक से गेंद चमकाने पर जो आईसीसी ने रोक लगाई है यह सही है।

लेकिन आयोजित होने वाले टेस्ट मैचों में हर 50 से 55 ओवर के बीच में एक नई गेंद गेंदबाज को मिलनी चाहिए क्योंकि 50 से 55 ओवर तक मैच पहुंचने पर गेंद पूरी तरह से घिस जाती है जिसके कारण गेंदबाज के लिए गेंद को स्विंग कराना काफी मुश्किल होता है आपको बता दें कि टेस्ट मैच में गेंदबाज को नई गेंद 80 ओवर के बाद ही दिए जाने का नियम फिलहाल है वही मशहूर क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर

ने यह भी कहा कि गेंद को चमकाने के लिए किसी नए पदार्थ का इस्तेमाल करना चाहिए एवं इस बात पर सभी की सहमति होनी चाहिए ताकि इससे बल्लेबाज एवं गेंदबाज दोनों को ही खुशी हो वहीं आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड आईसीसी द्वारा बनाए गए इस नए नियम का यदि कोई गेंदबाज उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो उसे दो बार अंपायर द्वारा चेतावनी दी जाएगी एवं इसके बाद भी यदि वह ऐसा करता हुआ पाया गया तो गेंदबाज पर जुर्माना लगाया जाएगा एवं बल्लेबाजी करने वाली टीम के खाते में अतिरिक्त 5 रन जोड़ दिए जाएंगे।

इसके अलावा टेस्ट मैच में सभी टीमें एक पारी में तीन बार रिव्यु ले सकेगी इसके अलावा दो देशों के बीच खेले जाने वाली सीरीज मैं घरेलू अंपायर कि भी नियुक्ति अब की जा सकेगी आने वाले समय मे अंतराष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड कई पुराने नियमो में बदलाव कर सकता है आपको बता दे कि मार्च के बाद 8 जुलाई से वेस्टइंडीज एवं इंग्लैंड के बीच 3 मैचों की टेस्ट सीरीज की भी शुरुआत हो रही है.

वही वेस्टइंडीज टीम इंग्लैंड भी पहुच चुकी है कुछ ही दिनों के बाद एक बार फिर से क्रिकेट मैदानों पर खिलाड़ी खेलते हुए नजर आएंगे लेकिन इस बार क्रिकेट मैदानों मैं खेलने वाले खिलाड़ियों को नए नियमों का पालन करना भी अनिवार्य होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *