आत्महत्या के दिन सुशांत के घर पर इस लड़की के बारे में मिली जानकारी

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की कहानी भले ही हल न हो, लेकिन हर दिन हो रहे नए खुलासे मामले के रहस्यों को उजागर कर रहे हैं। ऐसे में उम्मीद है कि सुशांत को इस मामले में जल्द ही न्याय मिलेगा। हालांकि रिया सुशांत सिंह राजपूत की प्रेमिका थी, वह पहले से ही इस मामले में संदेह के घेरे में है, इसलिए अब एक रहस्यमयी युवती सामने आई है। कहा जाता है कि रहस्यमय लड़की सुशांत की मृत्यु के दिन 14 जून को उसके घर गई थी। आइए जानें रहस्यमयी लड़की कौन है।

मुंबई पुलिस के सूत्रों से पता चला है कि जिस मिस्ट्री गर्ल का जिक्र किया जा रहा है वह और कोई नहीं बल्कि रिया के भाई शोविक की दोस्त जमीला है। इस नए रहस्योद्घाटन के साथ रिया और उसका भाई अब संदेह के दायरे में हैं। माना जा रहा है कि मुंबई पुलिस मामले में शोविक चक्रवर्ती से पूछताछ कर सकती है। आपकी जानकारी के लिए, सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या की खबर सुनकर प्रियंका खेमानी, जमीला और महेश शेट्टी उनके घर पहुंचे, लेकिन वहां मौजूद पुलिस ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया। इसके बाद सुशांत के घर के नौकरों से मिलने के बाद शोविक की दोस्त जमीला आई।

हालांकि, इस संबंध में राजनीति भी तेज हो गई है। यह उल्लेख किया जा सकता है कि सुशांत आत्महत्या मामले को लेकर बिहार और महाराष्ट्र की सरकारें लॉगरहेड्स में हैं। बिहार सरकार चाहती है कि सीबीआई इस मामले की जांच करे, जबकि महाराष्ट्र के उद्धव ठाकरे का कहना है कि सरकार इस मामले की सीबीआई जांच की मांग को अनुचित मानती है। इस श्रृंखला में, महाराष्ट्र सरकार ने एक बार फिर सुशांत मामले को सीबीआई को सौंपने से इनकार कर दिया। लेकिन कई बॉलीवुड सितारों के प्रशंसकों ने मांग की है कि सीबीआई को मामले की जांच करनी चाहिए।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि मुंबई पुलिस मामले की जांच करेगी। महाराष्ट्र पुलिस सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच करने में सक्षम है। मुंबई पुलिस की तुलना स्कॉटलैंड यार्ड से की जाती है। उन्होंने कहा, “महाराष्ट्र सरकार मामले की सीबीआई जांच के खिलाफ है। हम चाहते हैं कि मुंबई पुलिस इस मामले की जांच करे और सच्चाई सामने आए।” उन्होंने कहा कि मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है, देखते हैं कि अब क्या होता है।

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले ने महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी है। सूबे के कई नेताओं में गहरे मतभेद हैं। महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और भाजपा नेता नारायण राणे ने इसे हत्या करार दिया है और महाराष्ट्र के ठाकरे ने भी सरकार की भूमिका पर गंभीर सवाल उठाए हैं। ऐसे में यह देखना बाकी है कि पूरे मामले की जांच कौन करेगा। मामले का परिणाम उच्चतम न्यायालय से आना बाकी है, जो यह तय करेगा कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के बाद ही मामले की जांच कौन करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads by Eonads
Translate »