कोरोना वायरस के चलते भारत और चीन से लगने वाली सीमा सील

सरकार के फैसले की जानकारी देते हुए वित्त मंत्री युबा राज खातीवाड़ा ने रविवार की रात कहा, ‘सरकार ने दक्षिणी और उत्तरी सीमाओं दोनों को सील करने का फैसला किया है क्योंकि दक्षिण एशिया और दक्षिण पूर्व एशिया के देश कोरोनो वायरस महामारी से बुरी तरह प्रभावित हैं। देश के वित्त मंत्री युवराज खाटीवाडा ने रविवार रात संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इन देशों (भारत और चीन) से सामान की आपूर्ति रोजाना की तरह होती रहेगी। उन्होंने बताया कि सीमा पार लोगों के आवागमन पर 29 मार्च की मध्यरात्रि तक रोक लगा दी गई है। खाटीवाडा ने कहा, ‘‘सरकार ने दक्षिणी और उत्तरी दोनों सीमाओं को सील करने का फैसला किया है

भारत और चीन के साथ सीमा को सील करने का सरकार का निर्णय COVID-19 के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए एहतियाती उपाय के रूप में लिया गया है। इससे पहले नेपाल ने 22 मार्च से 31 मार्च तक सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को सस्पेंड करने का फैसला किया था। गृह मंत्री राम बहादुर थापा ने रविवार को भारतीय राजदूत विनय मोहन क्वात्रा के साथ सीमा को बंद करने पर चर्चा की, अधिकारियों ने कहा कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के साथ मिलकर कोरोना वायरस को फैलने से रोकने पर सहमति व्यक्त की।

वायरस के कारण अमेरिका में एक दिन में 130 से अधिक लोगों की मौत होने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आवश्यक मेडिकल आपूर्ति और निजी सुरक्षा उपकरणों की जमाखोरी रोकने के लिए एक सरकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं। यह पहली बार है जब देश में एक दिन में इतनी अधिक संख्या में लोगों की मौत हुई है। सोमवार तक अमेरिका में 43,700 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई थी।इनमें से 10,000 मामले केवल एक दिन में सामने आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »