झाड़ू का अगर इस सही तरीके करते हैं प्रयोग तो माता लक्ष्मी होगी प्रसन्न जानिए कैसे

वास्तुशास्त्र के अनुसार झाड़ू को लक्ष्मी माना जाता है तथा इसे धन का प्रतीक मानते हैं । हम अपने घरों की रोज साफ सफाई करते हैं क्यूंकि इसके पीछे भी दो कारण हैं पहला तो ये की हमारा घर साफ सुथरा रहेगा तो हमें कोई बीमारी नहीं लगेगी और दूसरा ये की ये हमारे रोज के धार्मिक संस्कारों से संबंधित कार्य है। इससे जुड़े शगुन और अपशगुन का हमारे जीवन पर बहुत प्रभाव पड़ता है। आप झाड़ू का आदर करेंगे तो इससे मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं। तो आइए जानते हैं झाड़ू से संबंधित कुछ बातों के बारे में।

कब लगाएं झाड़ू

सूर्योदय से पहले यानी कि जब सुबह सुबह सूर्य की पहली किरण आ रही हो तो उस वक्त झाड़ू लगाना चाहिए। अगर आप सूर्योदय से पहले नहीं कर पाते हैं तो सूर्यास्त होने से दस मिनट पहले झाड़ू लगा लें । गलती से भी सूर्यास्त के बाद झाड़ू ना लगाएं क्यूंकि कहा जाता है कि ऐसा करने से आने वाले समय में बुरे दिन का आगमन होता है। घर में दीप जलाने के बाद , पूजा करने के बाद , खाना खाने के बाद झाड़ू ना लगाएं। इसके साथ ही अगर घर का कोई सदस्य बाहर गया हो तो उसके जाने के तुरंत बाद झाड़ू ना लगाएं , कहा जाता है कि ऐसा करने से बाहर गए हुए आदमी का काम असफल होता है। अगर आपके घर कोई मेहमान आया हो और लौटने लगे तो उसके जाने के तुरंत बाद झाड़ू नहीं लगाना चाहिए । घर में किसी के छींकने पर , रोने पर या क्रोधित होने के समय झाड़ू नहीं लगाना चाहिए।

किस कोने से लगाना शुरू करें
सबसे पहले उत्तर पूर्व के कोन से झाडू लगाना शुरू करते हुए पूर्व दिशा का कोन फिर दक्षिण पूर्व उसके बाद दक्षिण पश्चिम का कोन फिर उत्तर पश्चिम कोन और सबसे अंतिम में उत्तर कोन में झाड़ू लगाएं । तथा इस बात का ध्यान रखें कि पूजा घर में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए।

कहां रखें
झाड़ू को हमेशा ऐसी जगह रखना चाहिए कि जहां आपकी खुद की नजर भी ना पहुंचें , ध्यान रहे कि आपके घर के सदस्य और आपके घर में आए मेहमानों की नजर इस पर ना पड़े। झाड़ू को भूल कर भी उत्तर पूर्व कोन में ना रखें। दक्षिण पश्चिम कोन झाड़ू रखने के लिए सबसे उत्तम स्थान माना जाता है। झाड़ू को रसोई घर , पूजा घर तथा बेड रूम में बिल्कुल भी नहीं रखना चाहिए । आप इसे दरवाजे के पीछे रख सकते हैं। झाड़ू को जूते रखने के जगह पर या मुख्य द्वार पर भी ना रखें , तथा घर के छत पर तो भूल कर भी ना रखें। रात के समय मुख्य द्वार पर झाड़ू रख दें इससे बाहर की नकारत्मक ऊर्जा अंदर प्रवेश नहीं करती।

कैसे रखें
सबसे पहले तो हम आपको बता दें कि झाड़ू को खड़ा कर के नहीं रखना चाहिए। झाड़ू और कचरा उठाने वाला पैन कभी एकसाथ ना रखें। झाडू को गीला नहीं रखना चाहिए उसे सुखाने के बाद ही रखें।

कब खरीदें और कब हटाएं
कभी भी एक या दो झाड़ू नहीं खरीदें बल्कि तीन झाड़ू खरीदें। नए झाड़ू का प्रयोग शनिवार से करना शुरू करना चाहिए। झाड़ू शुक्लपक्ष में नहीं खरीदना चाहिए ऐसा करने से दुर्भाग्य आपके घर प्रवेश करती है। आप कृष्णपक्ष में झाड़ू खरीद सकते हैं। अगर आप के घर में कोई झाड़ू कई दिनों से पड़ा हो और उसका उपयोग नहीं किया जा रहा हो तो उसको हटा देना चाहिए।

झाड़ू को कभी भी जलाना नहीं चाहिए चाहे वो पुराना ही क्यों ना हो। एक सबसे जरूरी बात ये है कि अगर आप किराए के घर पर रहते हैं या किराए पर लेते हैं या फिर नए घर में प्रवेश करते हैं तो वहां उपयोग की जाने वाली झाड़ू को वहीं ना छोड़ें ।अगर आप ऐसा करते हैं तो लक्ष्मी आपके पुराने घर में ही रह जाती हैं।

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *