सफेद बालों से परेशान है तो फिर से ऐसे काले करें बाल

आप सफेद हो रहे वालो से परेशान है।इस लेख में आपकी परेशानी का हल लेकर आया हूं।दोस्तो जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती जाती है, वैसे-वैसे White hair problem की भी चपेट में हम आने लगते हैं। मेलेनिन पिगमेंट की कमी की वजह से ऐसा होता है। हमारे बालों और स्किन के नेचुरल कलर के प्रति पिगमेंट का उत्पादन जिम्मेवार होता है। मेलेनिन जब कम मात्रा में शरीर में बनती है तो इससे बाल सफेद नजर आने लगते हैं। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, मेलेनिन का स्तर कम होना एक आम बात है। साथ ही और भी कई वजहों से मेलेनिन की शरीर में कमी हो जाती है। बाल आनुवांशिक कारणों से यदि सफेद होते हैं तो इन्हें काला बनाना संभव नहीं है। हालांकि, शरीर में पोषक तत्वों की कमी की वजह से बाल यदि सफेद हो रहे हैं तो इन्हें डाइट में बदलाव करके रोका जाना मुमकिन है।

मेलेनिन बालों के रंग के लिए जिम्मेदार होता है। मेलेनिन के स्तर में 30 साल की उम्र के बाद गिरावट होने लगती है। White hair problem किसी व्यक्ति की जीन से भी निर्धारित होती है। आपके माता-पिता के बाल यदि समय से पहले सफेद हो गए हो तो यह तय है कि आपके भी बाल सफेद हो जाएंगे। बाल आनुवांशिक कारणों से सफेद हो रहे हैं तो इन्हें दोबारा काला बनाना मुमकिन नहीं है। credit: third party image reference पोषक तत्वों की कमी से भी सफेद होते हैं: बालसंतुलित आहार बालों की सेहत बनाए रखने के लिए बहुत ही जरूरी है। विटामिन B12, कॉपर, आयरन और फोलेट जैसे पोषक तत्वों की जब शरीर में कमी होती है तो उम्र से पहले ही White hair problem होने लगती है। पूरक आहार लेकर पोषक तत्वों की शरीर में भरपाई की जा सकती है। इससे बाल अपने सामान्य कलर में वापस आ जाते हैं।
स्वास्थ्य समस्याएं होने पर भी सफेद होते हैं बाल

एलोपेसिया एरिएटा या थायराइड सहित अन्य प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं के कारण भी White hair problem हो जाती है। साथ ही हार्मोनल उतार-चढ़ाव की वजह से भी बालों के रंग में बदलाव होते हैं। समय रहते इन बीमारियों का यदि इलाज कर दिया जाए तो मेलेनिन को दोबारा स्टोर किया जाना संभव है।

White hair problem को ऐसे रोकेंबालों को सफेद होने से रोकने के लिए आपकी अपने वजन को नियंत्रण में रखना है और पानी जम कर पीना है। प्रदूषण और रसायनों के संपर्क में आने से भी आपको बचना पड़ेगा। बालों को अपने धूप और धूल-मिट्टी से आप को बचाना चाहिए। तनाव आपको कम लेना चाहिए, क्योंकि स्ट्रेस हार्मोन कारण मेलेनिन का उत्पादन धीमा हो जाता है।

बालों को दोबारा काला बनाने से जुड़े कुछ मिथक

यह एक सच्चाई है कि बाल आपके यदि प्राकृतिक रूप से सफेद हैं तो उन्हें काला बनाना संभव ही नहीं है। बहुत से लोग बालों के रंग को वापस लाने से जुड़े कई उपाय बताते हैं, मगर ये बेअसर होते हैं।यदि आप जिंक, बायोटीन, विटामिन B12, सेलेनियम और D3 जैसे सप्लीमेंट्स लेते हैं तो White hair problem को ठीक करने में इससे मदद मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »