गर्म या ठंडा दूध, कैसे पीने से बॉडी को होता है नुकसान?

दूध ठंडा या गरम दोनों तरह से पीया जा सकता हैं। दोनों तरह से दूध पीने के अलग – अलग फायदें है। आपको बताते हैं कि दूध का सेवन आपको किस तरह करना चाहिए।

गर्म दूध पीने का फायदा ये है कि ये आसानी से पच जाता है। वहीं अगर आपको लैक्‍टोज नहीं पचता है तो आप ठंडा दूध नहीं पीये क्योंकि इसे पचाना आपके लिए मुश्किल हो सकता है।

अगर आपको नींद न आने की बीमारी है तो आप बिस्‍तर पर जाने से पहले एक गिलास गर्म दूध पी सकते हैं। दूध में ट्रिप्‍टोफैन नाम का एमिनो एसिड होता है जो सेरोटोनिन और मेलाटोनिन नाम का केमिकल पैदा करते हैं जिससे आपको आराम मिलता है और अच्‍छी नींद आती है।

ठंडा दूध पेट में एसिडिटी के कारण होने वाली जलन से राहत पहुंचाता है। खाने के बाद आधा गिलास ठंडा दूध पीने से एसिड की समस्या से छुटकारा मिल जाता है ।

ठंडा दूध पीने से आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होती है। सुबह के टाइम ठंडा दूध पीने का सबसे अच्छा समय होता है। लेकिन अगर आप फ्लू और कोल्‍ड से पीड़ित हैं, तो ठंडा दूध पीने से बचें।

डॉक्टर्स कहते हैं कि बहुत ज्यादा गर्म दूध नहीं पीना चाहिए, इसकी जगह हल्का गुनगुना दूध लेना चाहिए। वहीं फ्रिज से थोड़ी देर बाहर निकाल कर ही ठंडा दूध पीना चाहिए।

हमें दूध के साथ कुलत्थी, नींबू, कटहल, करेला या फिर नमक का कभी भी एक साथ सेवन नहीं करना चाहिये। ये चीज़ें एकसाथ खाने से आपको लाभ की बजाय नुकसान होगा। जिससे कि आपको शारीरिक परेशानी हो सकती है। ये चीज़ें एकसाथ खाने से चमड़ी के रोग दाद,खाज ,खुजली,एक्ज़िमा ,सोरायसिस, आदि का खतरा बढ़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »